Wednesday , 25 November 2020
Home >> Breaking News >> ‘भारत स्वच्छ‘ करने से पहले कैबिनेट की सफाई करें मोदीः जेठमलानी

‘भारत स्वच्छ‘ करने से पहले कैबिनेट की सफाई करें मोदीः जेठमलानी


RAM JETH MALANI

नई दिल्ली , (एजेंसी) 29 अक्टूबर । वरिष्ठ वकील और एनडीए सरकार में मंत्री रहे राम जेठमलानी ने ब्लैक मनी के मुद्दे को लेकर एक बार फिर वित्त मंत्री अरुण जेटली और अटर्नी जनरल मुकुल रोहतगी पर निशाना साधा है। जेठमलानी ने कहा कि दोनों मोदी को गुमराह करते हुए ब्लैक मनी खताधारकों को बचाने की कोशिश कर रहे हैं।

जेठमलानी ने कहा कि मोदी की कैबिनेट में कुछ ऐसे लोग शामिल हैं, जो नहीं चाहते हैं कि ये नाम सामने आएं। मोदी को अपने कैबिनेट की सफाई करनी चाहिए। गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट की कड़ी फटकार के बाद केंद्र सरकार ने बुधवार को स्विस बैंक में अकाउंट रखने वाले 627 भारतीयों के नाम सीलबंद लिफाफे में सुप्रीम कोर्ट को सौंप दिए।

जेठमलानी ने कहा की ब्लैक मनी के मुद्दे पर मोदी सरकार यूपीए सरकार के रास्ते पर चल रही है। उन्होंने कहा, ‘मोदी को पता नहीं है कि क्या चल रहा है। उन्हें कानून की जानकारी नहीं है। उन्होंने इसकी जिम्मेदारी वित्त मंत्री और अटर्नी जनरल को दी है। दोनों फर्ज का पालन नहीं कर रहे हैं। मोदी को इसमें सीधा दखल देना चाहिए, क्योंकि यह उनका काम है। उन्हें स्वच्छ भारत अभियान से पहले अपने कैबिनेट में भी सफाई करनी चाहिए।‘

जेठमलानी ने कहा कि सरकार ब्लैक मनी खाताधारकों के नाम सार्वजनिक न करने के पीछे दोहरा कराधान बचाव संधि (डीटीएए)का बहाना बना रही है, जबकि इसका इससे कोई संबंध नहीं है। यह संधि उन हालात के लिए है जब जर्मनी या भारत के किसी शख्स को एक ही इनकम के ऊपर जर्मनी और हिंदुस्तान में टैक्स भरना पड़े। यह संधि उसके लिए है ताकि उसे एक ही जगह टैक्स देना पड़े।

उन्होंने कहा कि सरकार को इस मामले में संयुक्त राष्ट्र भ्रष्टाचार निरोधी संधि के तहत काम करना चाहिए, जिसके मुताबिक सभी देशों की सरकारों के लिए जरूरी है कि वे एक-दूसरे का सहयोग करें।


Check Also

अगर आप सोना खरीद या बेच रहे हैं तो यहाँ जानिए कितना लगता है टैक्स

भारतीय सोने को चार तरीके से खरीदते हैं। पहला, आभूषण और सिक्कों के रूप में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *