Saturday , 28 November 2020
Home >> Breaking News >> भारत के लिए खेलोगे, तभी मिलेगा अनुदान: खेल मंत्रालय

भारत के लिए खेलोगे, तभी मिलेगा अनुदान: खेल मंत्रालय


SPORTS MINISTRY IN INDIA

नई दिल्ली , (एजेंसी) 29 अक्टूबर । हाल में एशियन गेम्स में हिस्सा लेने में हिचक दिखाने वाले भारतीय टेनिस खिलाडि़यों के मामले को गंभीरता से लेते हुए खेल मंत्रालय ने कड़ा फैसला किया है। मंत्रालय ने कहा कि व्यक्तिगत खिलाड़ी उससे तभी अनुदान ले पाएंगे जबकि वे सुनिश्चित करें कि भारत के लिए उन्हें जब भी बुलाया जाएगा वे उपलब्ध रहेंगे।

मंत्रालय का यह फरमान उस वक्त आया है जब पुरुष नंबर एक एकल टेनिस खिलाड़ी सोमदेव देववर्मन, अनुभवी लिएंडर पेस और रोहन बोपन्ना जैसे शीर्ष खिलाडि़यों ने एटीपी सर्किट में अहम रैंकिंग अंकों के नुकसान का हवाला देकर इंचन एशियन गेम्स में हिस्सा लेने से इनकार कर दिया था। इसके कारण भारत को इस प्रतिष्ठित प्रतियोगिता में दूसरे दर्जे की टीम उतारनी पड़ी थी।

मंत्रालय ने इससे पहले 18 जुलाई 2013 को भी इस संबंध में सभी मान्यता प्राप्त राष्ट्रीय खेल महासंघों को निर्देश जारी किए थे। खेल मंत्रालय की विज्ञप्ति के अनुसार, ‘यह फिर दोहराया जा रहा है और सभी मान्यता प्राप्त राष्ट्रीय खेल महासंघों को स्पष्ट किया जा रहा है कि व्यक्तिगत खिलाड़ी मंत्रालय द्वारा उन्हें दिए गए अनुदान का फायदा तभी ले पाएंगे जब वे सुनिश्चित करेंगे कि जब भी उन्हें बुलाया जाएगा वे बिना किसी आपत्ति के भारतीय टीम की ओर से खेलेंगे।‘

मंत्रालय ने कहा, ‘अगर कोई विशेष अनिवार्यता है जिसके कारण खिलाड़ी खेलने में सक्षम नहीं है तो संबंधित राष्ट्रीय खेल महासंघ को इसकी पुष्टि करनी चाहिए जिसके बाद उनकी सलाह पर छूट दी जा सकती है।‘ खेल मंत्रालय की विज्ञप्ति में हालांकि किसी ऐसे खिलाड़ी का नाम नहीं लिया गया है जिसने इंचन एशियन गेम्स में नहीं खेलने का फैसला किया था या हिचक दिखाई थी।

खिलाडि़यों को हालांकि स्पष्ट कर दिया गया है अगर कोई ऐसे कई खेलों वाली प्रतियोगिता में हिस्सा नहीं लेने का फैसला करता है जहां भारत पदक के लिए दावेदारी पेश कर रहा है तो राष्ट्रीय खेल विकास कोष (एनएसडीएफ) से अनुदान के लिए उस खिलाड़ी के नाम पर विचार नहीं किया जाएगा।
विज्ञप्ति में कहा गया है कि कई खेल वाली प्रतियोगिताएं चार साल में एक बार होती हैं और इन प्रतिष्ठित खेल प्रतियोगिताओं में पदक जीतना देश के लिए गौरव की बात है।


Check Also

मोदी सरकार ने किसानों को दिल्ली में प्रवेश करने की इजाजत दी

सिंधु बॉर्डर पर किसानों और पुलिस के बीच जारी भिड़ंत के बीच बड़ी खबर सामने …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *