Home >> Breaking News >> देश के लिए खेलने को प्राथमिकता देंगी साइना

देश के लिए खेलने को प्राथमिकता देंगी साइना


SAINA NEHWA

नई दिल्ली, (एजेंसी) 30 अक्टूबर । खेल मंत्रालय के भारत का प्रतिनिधित्व करने के बजाय पेशेवर प्रतिबद्धताओं को तरजीह देने वाले खिलाडियों को वित्तीय मदद नहीं देने के आदेश के संदर्भ में स्टार बैडमिंटन खिलाडी साइना नेहवाल ने आज कहा कि देश की तरफ से खेलना हमेशा उनकी पहली प्राथमिकता रहेगी।

साइना ने दिल्ली गोल्फ क्लब में आयोजित कार्यक्रम से इतर पत्रकारों से कहा, ‘मुझे नहीं लगता कि कोई देश की तरफ से नहीं खेलना चाहता है। हर कोई देश की तरफ से खेलना चाहता है। कई बार आप चोट या खिलाडी के किसी मुश्किल स्थिति से गुजरने के कारण इसे नजरअंदाज नहीं कर सकते। अन्यथा मेरा मानना है कि हर कोई देश के लिये और देश के गौरव के लिये खेलना चाहता है।‘

मंत्रालय ने शीर्ष टेनिस खिलाडियों सोमदेव देववर्मन, लिएंडर पेस और रोहन बोपन्ना के इंचियोन एशियाई खेलों में भाग लेने से इन्कार करने के बाद यह आदेश दिया है। इन सभी ने अपनी रैंकिंग सुधारने के लिये एटीपी सर्किट में खेलने को तरजीह दी थी।

साइना से पूछा गया कि देश और पुरस्कार राशि वाली प्रतियोगिताओं में खेलने को लेकर संतुलन बनाना कितना मुश्किल है तो लंदन ओलंपिक की कांस्य पदक विजेता खिलाडी ने कहा, ‘पुरस्कार राशि वाली प्रतियोगिताओं में भी आप केवल एक खिलाडी के रुप में भाग नहीं लेती हो। आप राज्य स्तर, फिर राष्ट्रीय स्तर और आखिर में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहुंचते हो। इसलिए इस स्तर पर आप केवल देश के लिये खेलते हो। यह पुरस्कार राशि या पदक से जुडा नहीं है यह देश से जुडा होता है।‘

साइना से जब शीर्ष टेनिस खिलाडियों के एशियाई खेलों के बजाय एटीपी टूर्नामेंट में खेलने के फैसले के बारे में पूछा गया तो उन्होंने टिप्पणी करने से इन्कार कर दिया। उन्होंने कहा, ‘मैं केवल अपने बारे में बात कर सकती हू और मेरे लिये देश की तरफ से खेलना बहुत महत्वपूर्ण है।‘

इस बीच साइना ने कहा कि वह 2014 के साल में अपने प्रदर्शन से बहुत खुश है जिसमें उन्होंने इंडिया ओपन ग्रां प्री गोल्ड और ऑस्ट्रेलियाई ओपन के रुप में दो खिताब जीते। उन्होंने कहा, ‘मैंने इस साल बहुत अच्छा प्रदर्शन किया। मैंने दो खिताब जीते तथा मैं जिन खिलाडियों से हारी वे दुनिया में शीर्ष तीन खिलाडी थी। उनके अलावा इस साल मुझे कोई और नहीं हरा पाया।‘ साइना ने कहा, ‘मुझे पूरा विश्वास है कि अगला साल इससे भी बेहतर रहेगा। यदि मुझे तीन या चार सप्ताह अभ्यास का मौका मिलता है तो मेरे खेल में काफी बदलाव होगा।‘


Check Also

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस : भारतीय महिला टी20 टीम कप्तान हरमनप्रीत कौर 32वां जन्मदिन मना रही

आठ मार्च भारतीय महिला टी20 टीम की कप्तान हरमनप्रीत कौर के लिए काफी खास है. …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *