Home >> Breaking News >> कांग्रेस की कमान अपने हाथ में लें राहुलः दिग्विजय

कांग्रेस की कमान अपने हाथ में लें राहुलः दिग्विजय


Digvijay Singh

नई दिल्ली ,(एजेंसी) 01 नवम्बर । कांग्रेस पार्टी में नेतृत्व को लेकर विरोधी सुर सुनाई दे रहे हैं। जहां पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम कह चुके हैं कि भविष्य में गांधी परिवार से बाहर का कांग्रेस अध्यक्ष हो सकता हैए वहीं पार्टी महासचिव दिग्विजय सिंह ने कहा है कि राहुल गांधी के नेतृत्व को पार्टी में कोई चुनौती नहीं है और उन्हें पूरी तर से पार्टी की कमान अपने हाथों में ले लेनी चाहिए। हालांकिए कांग्रेस नेताओं ने उनके इस सुझाव को खारिज कर दिया है।

दिग्विजय सिंह ने कहा “वक्त आ गया है जब राहुल गांधी को कांग्रेस पार्टी की कमान पूरी तरह से अपने हाथ में ले लेना चाहिए। सोनिया गांधी पार्टी का मार्गदर्शन करती रह सकती हैं।” उन्होंने कहा कि राहुल को जल्द से जल्द पार्टी का अध्यक्ष बनकर पूरे देश में लोगों से संपर्क करना चाहिए। सोनिया गांधी यूपीए अध्यक्ष बनी रह सकती हैं।

हरियाणा सरकार को झटका:
दिग्विजय सिंह के इस बयान के बाद वह अपनों के निशाने पर आ गए हैं। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और गांधी परिवार के वफादार माने जाने वाले माखनलाल फोतेदार ने कहा हैए ष्दग्विजय संकट का फायदा उठाने की कोशिश कर रहे हैं दिग्विजय सिंह। उन्होंने कहा कि इसमें उनका निजी स्वार्थ है।” राज्यसभा में कांग्रेस के उपनेता आनंद शर्मा ने कहा कि यह दिग्विजय सिंह के निजी विचार हैंए कांग्रेस का सामूहिक नेतृत्व फैसला करेगा कि आगे क्या करना है। उन्होंने कहा कि सोनिया गांधी हमारी अध्यक्ष और प्रेरणास्रोत हैंए जबकि राहुल गांधी चुने हुए उपाध्यक्ष हैं।

दिग्विजय के अलावा अहमद पटेलए ए के एंटनी पी चिदंबरम अंबिका सोनीए अशोक गहलोतए शीला दीक्षितए वीरप्पा मोइली गुलाम नबी आजाद मल्लिकार्जुन खड़गे ऑस्कर फर्नांडिस और मुकुल वासनिक जैसे पार्टी के दिग्गज नेताओं ने इस बारे में पिछले कुछ सप्ताह में राहुल गांधी से बात की है। इनमें कई नेताओं ने बताया कि उन्होंने राहुल को अपनी राय से अवगत करा दिया है कि वक्त आ गया है।

कुछ प्रभावी कांग्रेस नेताओं में यह विश्वास भरी उम्मीद जगी है कि विरासत संभालने से आनाकानी कर रहे राहुल गांधी चुनावों में पार्टी की लगातार जबरदस्त हार के बाद आगे आकर मोर्चा संभालने के लिए तैयार हो सकते हैं। कई नेताओं को लगता है कि जितना जल्द राहुल अध्यक्ष पद संभालेंगे पार्टी के लिए उतना ही ज्यादा भला होगा क्योंकि पार्टी को दिए जाने वाले बेहद जरूरी निर्देशों के साथ ही उनकी योजनाओं को लेकर शंकाओं के बादल छंट जाएंगे।

लोधी एस्टेट वाले अपने घर में बात करते हुए दिग्विजय सिंह ने कहा कि राहुल कांग्रेस के नेतृत्वकर्ता के रूप में चुने जा चुके हैं। उन्होंने कहाए ष्पार्टी में एक भी व्यक्ति ऐसा नहीं है जो राहुलजी के नेतृत्व को चुनौती देगा।” पार्टी आलाकमान के स्तर पर उलटफेर के सवाल पर उन्होंने कहाए ष्एक बार वह कमान संभाल लें फिर सब उन पर निर्भर करता है।” दिग्वजिय के मुताबिक अध्यक्ष पद संभालने के बाद तुरंत राहुल को कांग्रेस पार्टी की सामाजिक.आर्थिक नीति का आकलन करना चाहिए। साथ ही उन्हें पार्टी की सदस्यता के लिए पारदर्शी प्रक्रिया अपनाने और फर्जी तरीके के सांगठनिक चुनावों के खत्मे पर जोर देना चाहिए।

2005 में अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी ;एआईसीसी का महासचिव और 2013 में पार्टी का उपाध्यक्ष बनने के बाद से राहुल गांधी संगठन में अपने स्तर से प्रयोग और सुधार करते आ रहे हैं। उन्होंने इनकी शुरुआत युवा कांग्रेस और एनएसयूआई से शुरू की थी और अब उनका ध्यान मुख्य रूप से पार्टी पर है। खबरें ऐसी भी आ रही हैं कि राहुल गांधी की नई पहल पार्टी के पारंपरिक और बुजुर्ग नेताओं के विचारों से टकरा रही हैं।


Check Also

किसी के बाप की हिम्मत नहीं है वो फिल्म सिटी ले जाए, हम महाराष्ट्र से कुछ भी ले जाने नहीं देंगे : सामना

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने राज्य में फिल्म सिटी बनाने की योजना बना …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *