Home >> Breaking News >> टाटा ग्रुप कंपनियों से बिलियन डॉलर रेवेन्यू हासिल करने के रास्ते पर मिस्त्री

टाटा ग्रुप कंपनियों से बिलियन डॉलर रेवेन्यू हासिल करने के रास्ते पर मिस्त्री


Sairas Mistri

मुंबई ,(एजेंसी) 12 नवम्बर । टाटा ग्रुप की इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी कंपनी टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) की ग्रुप की कंपनियों से एक अरब डॉलर 6.150 करोड़ रुपये से ज्यादा का रेवेन्यू हासिल करने के अपने गोल में एक-चैथाई से ज्यादा रास्ता तय कर चुकी है। ग्रुप के चेयरमैन सायरस मिस्त्री ने दो साल पहले टाटा ग्रुप की कंपनियों से टीसीएस को काम शिफ्ट करने को कहा था। इससे पहले टीसीएस को टाटा ग्रुप की कंपनियों से सालाना लगभग 10 करोड़ डॉलर का रेवेन्यू मिलता था, जो इन कंपनियों की ओर से आईटी पर खर्च का 10 पर्सेंट से भी कम था।

ग्रुप के एक एग्जिक्यूटिव ने ईटी को बतायाए अब टीसीएस को ग्रुप कंपनियों से ज्यादा बिजनेस मिल रहा है। मैं यह कहूंगा कि ग्रुप कंपनियों से यह लगभग 32.5 करोड़ डॉलर सालाना है। टीसीएस ने कहा कि वह खास क्लाइंट से जुड़ी जानकारी नहीं देती। कंपनी का 2014 के फाइनेंशियल ईयर में रेवेन्यू 13.4 अरब डॉलर का था।

अब टीसीएस को आईबीएम जैसी ग्लोबल कंपनियों के पास पहले जा चुकी डील्स भी मिल रही हैं। 2012 में कंपनी को टाटा मोटर्स के मालिकाना हक वाली ब्रिटिश ऑटोमोबाइल कंपनी जगुआर लैंड रोवर से 38.5 करोड़ डॉलर की डील मिली थी। टाटा ग्रुप के स्टारबक्स के साथ ज्वाइंट वेंचर में भी आईटी के काम के लिए टीसीएस को शामिल किया गया था।

टीसीएस के पास टाटा टेलीसर्विसेजए टाटा स्काईए टाटा कैपिटल और इनफिनिटी रिटेल जैसे क्लाइंट्स भी हैं। पिछले फाइनेंशियल ईयर में टाटा स्काईए टाटा कैपिटल और इनफिनिटी रिटेल ने कंपनी को दिए जाने वाले बिजनेस में इजाफा किया था। ग्रुप के आईटी पर खर्च की जानकारी रखने वाले एक सोर्स ने बतायाए इस बात में कोई शक नहीं है कि टीसीएस को अब टाटा ग्रुप की कंपनियों से ज्यादा बिजनेस मिल रहा है।

टीसीएस के चीफ एग्जिक्यूटिव एन चंद्रशेखरन ने हाल ही में एक इंटरव्यू में कहा था, ष्मुझे लगता है कि हमारी ग्रुप में अभी भी कम मौजूदगी है। ग्रुप में काफी संभावना है। हम अभी भी कई ग्रुप कंपनियों के साथ काम कर सकते हैं। ग्रुप एक अच्छा कस्टमर हो सकता हैए लेकिन हमें अन्य कंपनियों की तरह की काम और कॉम्पिटिशन करना होगा।ष् देश में आईटी खर्च को ट्रैक करने वाले एक्सपर्ट्स का कहना है कि टाटा ग्रुप के अपनी कंपनियों को टीसीएस का इस्तेमाल करने का निर्देश देने में कोई समस्या नहीं है। ग्रेहाउंड रिसर्च के चीफ एनालिस्ट एंड सीईओ संचित वीर गोगा के मुताबिकए ष्टीसीएस दुनिया में बेस्ट आईटी कंपनियों में से एक है और यह अच्छा काम कर रही है।


Check Also

NDA विधायक ललन पासवान ने कहा- लालू जी ने दिया था मंत्री पद का प्रलोभन

विधानसभा में स्पीकर पद के लिए चुनाव हो रहे हैं। इसी बीच राजद अध्यक्ष और …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *