Home >> Breaking News >> ISIS के ट्विटर अकाउंट को हैंडल करता है भारतीय शख्स!

ISIS के ट्विटर अकाउंट को हैंडल करता है भारतीय शख्स!


नई दिल्ली,(एजेंसी)12 दिसंबर । विदेशी जिहादियों द्वारा फॉलो किए जाने वाले सबसे प्रभावशाली ट्विटर हैंडल को एक भारयीत शख्स ही चला रहा है। यह शख्स ISIS और जिहादियों के बीच एक माध्यम का काम करता था।

ISIS 1

चैनल-4 ने दावा किया है कि बेंगलुरु में बैठा एक भारतीय ही आईएसआईएस का सबसे प्रभावशाली ट्विटर अकाउंट चला रहा है। यह भारतीय अपना पूरा दिन ISIS के प्रॉपगैंडा वाले हज़ारों ट्वीट्स करते हुए बिताता है। उसने ISIS के लिए समर्थन से लड़ाकों की भर्ती तक का काम इस सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के सहारे अंजाम दिया।

शामी विटनेस के नाम से बना यह ट्विटर हैंडल को हर महिने लगभग दो मिलियन बार देखा जाता था। ISIS समर्थक इस हैंडल से 17,700 फॉलोअर्स जुड़े हुए थे। विदेशी जिहादियों का दो तिहाई हिस्सा इस हैंडल को फॉलो करता था। जब कभी किसी जिहादी के हैंडल को सस्पेंड किया जाता है तो वह एक नया हैंडल बनाकर वहां अपने फॉलोअर्स जुटा लेता है।

ब्रिटेन के जिहादियों से यह हैंडल लगातार संपर्क में रहता था। जिहादियों के इस्लामिक स्टेट से जुड़ने से लेकर वहां से लौटने तक यह हैंडल उनसे संवाद कायम करता था और उनके मारे जाने पर उन्हें शहीद बताकर उनकी तथाकथित शहादत से जुड़े ट्वीट्स करता था।

अभी तक इस हैंडल से जुड़ी जानकारी उपलब्ध नहीं थी, जब हैंडल के ऑपरेटर से इससे जुड़े सवाल किए जाते थे तो वो इसका कोई जवाब नहीं देता था और यह भी साफ नहीं करता था कि ISIS जैसे आतंकवादी संगठन का प्रॉपगैंडा करने के पीछे उसका उद्देश्य क्या है?

चैनल-4 के एक खोजी रिपोर्ट में यह दावा किया गया है कि इस हैंडल को ऑपरेट करने वाले का नाम मेंहदी है। यह व्यक्ति बेंगलूरु के कंपनी का कर्मचारी है। चैनल-4 इस व्यक्ति की पूरी जानकारी नहीं बताएगा। इसका कारण यह है कि व्यक्ति कहना है कि अगर उसकी पूरी पहचान जाहिर हो जाती है तो उसकी जान को खतरा है।

चैनल-4 की रिपोर्ट के मुताबिक मेंहदी का कहना है कि वो खुद ISIS में शामिल हो जाता पर उसका परिवार उस पर निर्भर है और इस वजह से वो ऐसा नहीं कर सकता है। उसने बताया, “अगर मेरे पास सबकुछ छोड़कर आई-एस से जुड़ने का विकल्प होता तो मैं जुड़ सकता था…मेरे परिवार को मेरी ज़रूरत है।”

अपने फेसबुक पेज पर यह व्यक्ति मजाकिया तस्वीरों से लेकर पिज्जा पार्टी तक की तस्वीरें शेयर करता है। फेसबुक पर ही कई जगह ऐसे पोस्ट मिलते हैं जिससे उसके ISIS से सहानुभूति रखने वाला होने का प्रमाण मिलता है। चैनल-4 के संपर्क के बाद मेंहदी ने शामी विटनेस के नाम से चलाए जा रहे इस ट्विटर हैंडल को बंद कर दिया।

सोशल मीडिया विवाद-
इस ट्विटर हैंडल @ShamiWitness पर हर महिने ISIS से जुड़े हज़ारों ट्वीट्स किए जाते थे और इसके अपडेट्स के लिए फोन का इस्तेमाल होता था।

इस हैंडल से अमेरिका के सहायता मुहैया कराने वाले व्यक्ति पीटर किसिंग को मौत के घाट उतारे जाने वाले वीडियो से लेकर दर्जनों सीरियाई सिपाहियों के मौत की वीडियों इंटरनेट पर डाले जाने के चंद मिनटों बाद कई बार ट्वीट किया गया।

ISIS 2

नवंबर महिने में इस हैंडल से ट्वीट किया गया, “अल्लाह इस्लामिक स्टेट को रास्ता दिखाए, उसकी रक्षा करे, उसे मजबूती दे और फलने-फूलने दें। इस्लामिक स्टेट ने भ्रष्टाचार खत्म किया, अपराध कम किया और स्वायतता लाई है।”

शामी विटनेस के ट्वीट्स से यह भी जाहिर हुआ कि कुर्दिश लड़कों के मारे जाने और समुदाय की महिलाओं से बलात्कार होने से वह खुश है पर बाद में सफाई आई कि उसकी बातों को गलत तरीके से लिया गया है। अपनी वास्तविक जिंदगी में अपने फेसबुक अकाउंट पर उसने रेप के खिलाफ बातें की है।

दिसम्बर 10, 2014 को इस हैंडल से यह ट्वीट हुआ था, “#ब्रेकिंग इस्लामिक स्टेट द्वारा बड़े अभियान चलाए जा रहै हैं, सलाउद्दीन प्रांत के कई क्षेत्रों में विशेष फैजा इसका प्रतिनिधित्व कर रही है। #इराक (@ShamiWitness).”


Check Also

क्रिसमस और नए साल पर नहीं होगी आतिशबाजी, एनजीटी ने पटाखों पर लगे प्रतिबंध को बढ़ाया

देश मे कोरोना की स्थिति के मद्देनज़र एनजीटी ने पटाखों पर लगे प्रतिबन्ध को अनिश्चितकाल …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *