Home >> Breaking News >> INDvsAUS: पहले दिन का खेल मुरली विजय के नाम

INDvsAUS: पहले दिन का खेल मुरली विजय के नाम


ब्रिसबेन/ नई दिल्ली,(एजेंसी)17 दिसंबर । सलामी बल्लेबाज मुरली विजय के 144 रन की मदद से भारत ने आस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे क्रिकेट टेस्ट के पहले दिन आज चार विकेट पर 311 रन बना लिये। एडीलेड में दूसरी पारी में शतक बनाने से एक रन से चूके विजय ने अपना पांचवां टेस्ट शतक जमाकर गाबा पर भीषण गर्मी में खेले जा रहे मैच में भारत को पहले दिन मजबूत स्थिति में पहुंचा दिया।

Murli  Vijay

विजय को 36 के स्कोर पर तेज गेंदबाज मिशेल जानसन की गेंद पर शॉन मार्श ने जीवनदान दिया था जिसका पूरा फायदा उठाकर उन्होंने 213 गेंद में 144 रन बनाये।उन्हें अजिंक्य रहाणे (नाबाद 75) से पूरा सहयोग मिला और दोनों ने चौथे विकेट के लिये 124 रन की साझेदारी की।

आस्ट्रेलियाई गेंदबाज गाबा की जीवंत पिच पर लय हासिल करने के लिये तरसते रहे। विजय को 102 के स्कोर पर फिर जीवनदान मिला जब जानसन की ही गेंद पर शॉन ने उनका कैच छोड़ा। इन दो मौकों के अलावा विजय की पारी बेदाग रही। उन्होंने आस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाजों का बखूबी सामना किया और स्पिनर नाथन लियोन भी उन्हें ज्यादा परेशान नहीं कर सके। गाबा की हरी भरी पिच पर भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने टास जीतकर बल्लेबाजी का साहसी फैसला किया जिसे भारतीय बल्लेबाजों ने सही साबित कर दिया।

Murli Vijay With Rahane

पहले दिन का खेल समाप्त होने पर रहाणे के साथ रोहित शर्मा 26 रन बनाकर खेल रहे थे। भारत ने सुबह शिखर धवन (24) का विकेट गंवा दिया था जबकि लंच के बाद चेतेश्वर पुजारा (18) और विराट कोहली (19) आउट हो गए। पुजारा बदकिस्मत रहे जब अंपायर इयान गूड ने उन्हें विकेट के पीछे कैच आउट करार दिया जबकि गेंद उनके हेलमेट के वाइसर से लगी थी। टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण कर रहे तेज गेंदबाज जोश हेजलवुड ने उन्हें पवेलियन भेजा।

हेजलवुड ने 21 रन देकर दो विकेट लिये। उन्होंने कोहली को भी आउट किया जो विकेट के पीछे कैच देकर लौटे। चाय के बाद विजय ने 73 रन से आगे खेलना शुरू किया और आखिरी सत्र के चौथे ओवर में अपना शतक पूरा किया। गर्म मौसम में फील्डरों पर हावी होती थकान का उन्होंने पूरा फायदा उठाया और ढीली गेंदों को नसीहत दी।

Rahane

चाय के बाद विजय और रहाणे ने 12 ओवर में 72 रन जोड़े. रहाणे ने अपना छठा टेस्ट अर्धशतक 71वें ओवर में पूरा किया और उनकी साझेदारी भी 100 रन की हो गई। अगले ओवर में हालांकि विजय लियोन की गेंद पर विकेट के पीछे कैच दे बैठे। इसके बाद रोहित और रहाणे ने रन बनाने का सिलसिला जारी रखा। भारत के 300 रन 81वें ओवर में पूरे हुए। धीमी ओवरगति के कारण पहले दिन खेल सात ओवर बाकी रहते खत्म करना पड़ा।

इससे पहले विजय ने लंच के बाद पहले ही ओवर में स्टार्क को कवर ड्राइव लगाकर अपना अर्धशतक पूरा किया. मेजबान टीम को इस बीच एक झटका लगा जब मिशेल मार्श हैमस्ट्रिंग में खिंचाव के कारण बाहर हो गए। भारत के 100 रन 31वें ओवर में बने। विजय और पुजारा क्रीज पर डटकर खेल रहे थे लेकिन अंपायर गूड ने पुजारा की पारी का अंत 34वें ओवर में कर दिया।

पुजारा इस फैसले पर हैरान रह गए और ड्रेसिंग रूम में जाने को तैयार नहीं लग रहे थे। पहले टेस्ट में दो शतक जमाने वाले कोहली (19) क्रीज पर आये जिन्होंने विजय के साथ तीसरे विकेट के लिये 37 रन जोड़े. वह हेजलवुड का दूसरा शिकार हुए। विजय और शिखर धवन ने नयी गेंद का बखूबी सामना किया। पहले 12 ओवर में 49 रन बने।

भारत के 50 रन 13वें ओवर में पूरे हुए। धवन को मिशेल मार्श ने 14वें ओवर में पवेलियन भेजा जो विकेटकीपर को कैच देकर लौटे। विजय को अगले ओवर में जीवनदान मिला जब जानसन की गेंद पर तीसरी स्लिप में शान मार्श ने उनका कैच छोड़ा। उस समय वह 36 रन बनाकर खेल रहे थे।


Check Also

भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया के सामने रखा 303 रन का टारगेट, जडेजा ने बनाया अर्धशतक

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच तीन मैचों की वनडे सीरीज का आखिरी मुकाबला कैनबरा में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *