Home >> Breaking News >> इकनॉमिक रिफॉर्म से समझौता नहीं : जेटली

इकनॉमिक रिफॉर्म से समझौता नहीं : जेटली


नई दिल्ली,(एजेंसी)20 दिसंबर । मोदी सरकार के इकनॉमिक रिफॉर्म पर उठते सवालों का जवाब देते हुए वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा है कि सरकार इससे न तो कोई समझौता करेगी और न ही राजनीतिक विरोध को राष्ट्र के विकास का अड़चन बनने देगी।

Arun Jetly
केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली। (फाइल फोटो)

6 फीसदी ग्रोथ हासिल करने का है लक्ष्य
वित्त मंत्री ने कहा कि आने वाला साल चुनौतीपूर्ण होगा, बावजूद इसके 6 फीसदी ग्रोथ का लक्ष्य हासिल करने की पूरी उम्मीद है। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने लोकसभा में जीएसटी विधेयक पेश करने के एक दिन बाद फिक्की के एजीएम में कहा कि सरकार इंश्योरेंस सेक्टर में सुधारों को आगे बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध है।

टीएमसी पर निशाना
टीएमसी का नाम लिए बिना जेटली ने कहा कि जिस राजनीतिक दल के सदस्य कथित तौर पर चिट फंड घोटाले में शामिल रहे हैं, वह राज्यसभा के कामकाज में बाधा खड़ी कर ध्यान बंटाने की कोशिश कर रहा है।

कोयला विधेयक अड़ंगेबाजी में लटका है
वित्त मंत्री ने कहा कि कोयला विधेयक एक अन्य महत्वपूर्ण विधेयक है जो कि राजनीतिक अड़ंगेबाजी की वजह से राज्यसभा में अटका पड़ा है। यह विधेयक ऐसा है जिसे लोकसभा ने एकमत से पारित किया है। सभी आशंकाओं को दूर किया गया है, लेकिन उच्च सदन में इस विधेयक को अजेंडा में नहीं आने दिया जा रहा है।

अनुचित तरीके से लगाए गए टैक्स का मतलब नहीं
वित्त मंत्री ने कहा कि राजस्व विभाग को उचित टैक्स की वसूली अवश्य करनी चाहिए लेकिन अनुचित तरीके से लगाए गए टैक्स पर ध्यान देने का कोई मतलब नहीं है। इससे केवल बदनामी होती है। उन्होंने कहा कि हम एक कानून के तहत शासित समाज हैं, इसलिये ऐसे टैक्स भुगतान योग्य नहीं हैं अथवा ऐसे टैक्स जो अनुचित तरीके से थोपे गए हैं, उनसे अंतत: कोई राजस्व नहीं मिलता है।


Check Also

घमासान के बाद पंजाब के कांग्रेस विधायक बाजवा ने ठुकराया बेटे की नौकरी का आफर, सुनील जाखड़ व दो मंत्रियों पर साधा निशाना

कांग्रेस विधायक फतेह सिंह बाजवा ने अपने बेटे अर्जुन बाजवा को इंस्पेक्टर लगाने के ऑफर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *