Home >> Breaking News >> कौन होगा झारखंड का अगला मुख्यमंत्री?

कौन होगा झारखंड का अगला मुख्यमंत्री?


नई दिल्‍ली,(एजेंसी)23 दिसंबर । झारखंड में प्रधानमंत्री मोदी का जादू चल गया है। बीजेपी और आजसू गठबंधन यहां पूर्ण बहुमत के साथ सरकार बनाने जा रहे हैं।

झारखंड के 13 साल के इतिहास में पहली बार जनता ने बीजेपी की नेतृत्व वाली एक स्थिर सरकार का चुनाव किया है लेकिन सवाल ये है कि बेहिसाब खनिज संपदा से संपन्न इस राज्य को विकास की पटरी पर दौड़ाएगा कौन ?

कौन होगा झारखंड का अगला मुख्यमंत्री?

1 . मुख्यमंत्री की दौड़ में यूं तो कई नाम हैं लेकिन सबसे ज्यादा जिस नाम की चर्चा है वे हैं रघुबर दास की जो झारखंड के उपमुख्यमंत्री भी रह चुके हैं। रघुबर दास फिलहाल बीजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष हैं और इन्हें बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह की कोर टीम का सदस्य माना जाता है। बीजेपी संगठन में काम करते हुए इन्होंने राज्य में पार्टी की जीत में अहम भूमिका निभाई है।

RAGHUBAR DAS

2. मुख्यमंत्री पद की रेस में दूसरे नंबर पर हैं
पूर्व वित्तमंत्री यशवंत सिन्हा के बेटे जयंत सिन्हा का । जयंत सिन्हा इस वक्त केंद्र सरकार में वित्त राज्य मंत्री हैं। सियासत इन्हें विरासत में मिली है। वैसे जयंत सिन्हा आईआईटी दिल्ली से बीटेक, हॉवर्ड यूनिवर्सिटी से एमबीए और यूनिवर्सिटी ऑफ पेनसिलवेनिया से मास्टर्स की डिग्री हासिल कर चुके हैं।

3. झारखंड की सीएम पद के लिए जिस तीसरे शख्स पर लोगों की नजर है वे हैं मोदी सरकार में सामाजिक न्याय और अधिकारिता राज्यमंत्री सुदर्शऩ भगत। सुदर्शऩ भगत लोहरदगा से सांसद हैं। केंद्र में मंत्री बनने से पहले ये झारखंड में शिक्षा, कल्याण जैसे अहम मंत्रालय संभाल चुके हैं। सुदर्शन भगत अपनी शालीनता और मिलनसार स्वभाव की वजह से सिर्फ पार्टी में ही नहीं बल्कि विपक्ष दलों में भी काफी लोकप्रिय हैं।

4. झारखंड की सीएम की रेस में जिस शख्स को तुरुप का इक्का माना जा रहा है वे हैं गणेश मिश्रा । गणेश मिश्रा राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ के पुराने सदस्य और प्रचारक रहे हैं और इन्होंने बीजेपी संगठन में भी कई अहम जिम्मेदारियां निभाई है। अगर हरियाणा की तरह की झारखंड में संघ के जुड़े किसी शख्स को मुख्यमंत्री पद के लिए आगे किया जाता है तो उसमें सबसे पहला नाम गणेश मिश्रा का हो सकता है।

इसके अलावा रांची से पांचवीं बार लगातार विधायक चुने गए चंद्रेश्वर प्रसाद सिंह यानि सीपी सिंह भी सीएम पद से शामिल हैं । चंद्रेश्वर प्रसाद सिंह की पार्टी में अच्छी पकड़ मानी जाती है और ये झारखंड में आदिवासी सीएम की योग्यता भी पूरा करते हैं।

सीएम कौन होगा इसका आखिरी फैसला बीजेपी संसदीय बोर्ड की बैठक में किया जाएगा।


Check Also

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम के स्टालिन ने केंद्र से कृषि कानूनों को वापस लेने का किया आग्रह

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम के स्टालिन ने मंगलवार को केंद्र से किसानों की मांगों को …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *