Home >> Breaking News >> नए साल पर मिलेगा सस्ते पेट्रोल, डीजल का चुनावी गिफ्ट!

नए साल पर मिलेगा सस्ते पेट्रोल, डीजल का चुनावी गिफ्ट!


नई दिल्ली,(एजेंसी) 31 दिसंबर । पेट्रोल और डीजल बुधवार आधी रात से सस्ते हो सकते हैं। सरकार चाहती है कि इंटरनैशनल मार्केट में क्रूड ऑइल के दाम में कमी का फायदा ऑइल मार्केटिंग कंपनियां नए साल के गिफ्ट के तौर पर पब्लिक को दें।
Petrol-price-set-to-drop-in-new-year
पेट्रोल के दामों में आ सकती है गिरावट
हालांकि अधिकारियों ने बताया कि कटौती बड़ी नहीं होगी, भले ही भारत के एवरेज क्रूड ऑइल इंपोर्ट कॉस्ट में 9-10 डॉलर प्रति बैरल की कमी आई है। उन्होंने बताया कि तेल के दाम में आई गिरावट का फायदा रुपये की वैल्यू कम होने के चलते काफी हद तक खत्म हो गया है। दो हफ्ते पहले डॉलर के मुकाबले रुपया 61.95 के लेवल पर था, जो अब 63.26 पर पहुंच गया है।

यह पेट्रोल के दाम में लगातार नौवीं कटौती होगी। वहीं डीजल के दाम डीरेग्युलेशन के बाद पांचवीं बार कम किए जाएंगे। देश में अब पेट्रोल और डीजल के दाम इंटरनैशनल मार्केट के मुताबिक बदलते हैं। हर 15 दिन पर इनकी समीक्षा की जाती है। भारत 80 पर्सेंट तेल विदेश से खरीदता है। इसके लिए भुगतान डॉलर में किया जाता है। इसलिए पंप पर पेट्रोल और डीजल की कीमत क्या होगी, इसमें रुपये में आए उतार-चढ़ाव का असर पड़ता है।

ऑइल इंडस्ट्री से जुड़े अधिकारियों का कहना है कि ऑइल मार्केटिंग कंपनियां दाम में अभी कटौती नहीं करना चाहतीं। उन्हें महंगे स्टॉक के चलते लॉस हुआ है। वे इसकी भरपाई करना चाहती हैं। ऑइल मार्केटिंग कंपनियों का कहना है कि उन्हें पुराने स्टॉक के चलते 10,000 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है।

हालांकि सरकार चाहती है कि कंपनियां कंज्यूमर्स को ऑइल के दाम में आई कमी का फायदा दें। बीजेपी सरकार की नजर फरवरी में दिल्ली विधानसभा चुनाव पर है। यह जानकारी इन अधिकारियों ने नाम नहीं छापने की शर्त पर दी है। केंद्र की बीजेपी सरकार ने दिल्ली के वोटरों को रिझाने के लिए पेट्रोल और डीजल के दाम में कमी का क्रेडिट लेना शुरू भी कर दिया है। अधिकारियों ने बताया कि एफएम रेडियो चैनल पर इसके विज्ञापन दिए जा रहे हैं।

इस साल 31 जुलाई के बाद पेट्रोल के दाम में 12 रुपये लीटर की कमी हो चुकी है। वहीं 18 अक्टूबर को डीरेग्युलेशन के बाद डीजल 8.50 रुपये लीटर सस्ता हुआ है। ऑइल मार्केटिंग कंपनियों को ऐविएशन फ्यूल और मार्केट रेट पर बिकने वाले रसोई गैस के दाम में भी कमी करनी पड़ सकती है। मई में मोदी सरकार के आने के बाद कंपनियां 14.2 किलो के गैस सिलिंडर के दाम में 176 रुपये और ऐविएशन टर्बाइन फ्यूल के दाम में 11,090 रुपये प्रति किलोलीटर की कटौती कर चुकी हैं।


Check Also

प्रदूषण की दोहरी मार : कोरोना के बीच दिल्ली में AQI लेवल पंहुचा 300 पार

दिल्ली-एनसीआर की हवा में कुछ दिनों के सुधार के बाद प्रदूषण एक बार फिर बढ़ने …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *