Home >> U.P. >> HC के सामने बनेगी एलीवेटेड रोड, मिलेगी जाम की समस्या से ‌मुक्ति

HC के सामने बनेगी एलीवेटेड रोड, मिलेगी जाम की समस्या से ‌मुक्ति


फैजाबाद रोड पर हाईकोर्ट के सामने लगने वाले जाम की समस्या दूर करने को वहां एलीवेटेड रूट बनाया जाएगा। हाईकोर्ट से अनुमति मिलने के बाद पीडब्ल्यूडी के नेशनल हाईवे डिवीजन ने कंसल्टेंट चुनने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। कंसल्टेंट का काम प्रोजेक्ट के डिजाइन तैयार करने के अलावा उसकी फिजिबिलिटी रिपोर्ट बनाना होगा।
इस प्रोजेक्ट में पॉटीटेक्निक फ्लाईओवर से कमता फ्लाईओवर को लिंक किए जाने की योजना है। पीडब्ल्यूडी (नेशनल हाइवे डिवीजन) के एक अधिकारी ने बताया कि पॉलीटेक्निक फ्लाईओवर से कमता के बीच करीब 1100 मीटर में एलीवेटेड सड़क बनानी होगी। यह एक फ्लाईओवर की तरह ही होगी।

इससे मुंशीपुलिया की तरफ से आने वाले वाहन सीधे चिनहट की तरफ जा सकेंगे। इससे हाईकोर्ट के सामने लगने वाला जाम खत्म हो जाएगा। मौजूदा समय में पॉलीटेक्निक चौराहे और कमता तिराहे पर फ्लाईओवर बने हुए हैं। दोनों को लिंक करने पर वाहन सीधे चिनहट पहुंच जाएंगे।

हाईकोर्ट के सामने जाम को खत्म करने के लिए इससे पहले पीडब्ल्यूडी ने दो प्रस्ताव पर काम शुरू किया था। इसमें एक एलीवेटेड सड़क या दूसरा भूमिगत सुरंग का निर्माण शामिल किया गया। भूमिगत सुरंग के निर्माण के मुश्किल होने की वजह से एलीवेटेड रूट को चुना गया।

…ऐसा होना भी संभव है

भूमिगत सुरंग के प्रोजेक्ट का खर्च बहुत ज्यादा होने के साथ सड़क के नीचे मौजूद यूटिलिटी जैसे पानी की लाइन, सीवर लाइन, केबल को हटाना एक मुश्किल भरा काम था। इस प्रस्ताव को छोड़ दिया गया।पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों का कहना है कि अभी मुंशीपुलिया चौराहे पर भी एक एल शेप फ्लाईओवर का निर्माण होना है।
ऐसे में यह संभावना भी देखी जा रही है कि क्या इस फ्लाईओवर को मुंशीपुलिया से पॉलीटेक्निक लिंक किया जा सकता है। हालांकि, इसमें मेट्रो लाइन रोड़ा बन सकती है। अगर ऐसा हुआ तो पॉलीटेक्निक से कमता, कमता से चिनहट और चिनहट से मटियारी लिंक करके एक पांच किमी से लंबा फ्लाईओवर तैयार हो जाएगा। इससे पूरे फैजाबाद रोड की ही जाम की समस्या खत्म हो जाएगी।वहीं करीब डेढ़ साल से बंद चल रहे पॉलीटेक्निक फ्लाईओवर के जल्द शुरू होने की संभावना है। सेंट्रल रोड रिसर्च इंस्टीट्यूट (सीआरआरआई) की टीम पुल के ऊपर लोड टेस्ट शुरू करने के लिए छह से 12 नवंबर तक लखनऊ में होगी। लोड टेस्ट के बाद पुल पर ट्रैफिक शुरू करने पर फैसला होगा। पीडब्ल्यूडी के नेशनल हाइवे डिवीजन के अधिकारियों ने 15 तक पुल पर ट्रैफिक शुरू होने की संभावना जताई है।

हाईकोर्ट के सामने एलीवेटेड रूट बनाने के प्रस्ताव को सही पाया गया है। कंसल्टेंट का चुनाव किया जा रहा है। फि जिबिलिटी रिपोर्ट तैयार कर अनुमति के लिए सरकार को प्रोजेक्ट भेजा जाएगा। 


Check Also

कल्‍याण सिंह से मिलने SGPGI पंहुचे सीएम योगी, अभी भी हालत नाजुक

लखनऊ, एसजीपीजीआई में भर्ती पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह की हालत अभी भी नाजुक बनी हुई …