Home >> इंटरनेशनल >> नेपाल में चीन सीमा के निकट भारत की मदद से बने पुल का उद्घाटन

नेपाल में चीन सीमा के निकट भारत की मदद से बने पुल का उद्घाटन


नेपाल ने चीन सीमा के निकट कालीगंडकी नदी पर भारत की 2.7 करोड़ रुपये की वित्तीय सहायता से निर्मित एक पुल का रविवार को उद्घाटन किया. नवनिर्मित इस पुल का उद्घाटन नेपाल में भारत के राजदूत मनजीव सिंह पुरी ने किया.एजेंसी की खबर के मुताबिक भारतीय दूतावास से जारी एक वक्तव्य में कहा गया कि मुस्तांग जिले के जॉमसोम इलाके में निर्मित पुल न सिर्फ मुस्तांग के लोगों को वाहन से सीधे आने-जाने की कनेक्टिविटी प्रदान करता है, बल्कि प्रसिद्ध मुक्तिनाथ मंदिर का दर्शन करने और ट्रेकिंग के लिए ऊपरी मुस्तांग आने वाले हजारों पर्यटक और तीर्थयात्री भी इससे लाभान्वित होंगे.

भारत ने पुल के निर्माण के लिए दी सहायता 

वक्तव्य में बताया गया कि भारत ने भारत-नेपाल आर्थिक सहयोग (आईएनईसी) कार्यक्रम के हिस्से के तौर पर पुल के निर्माण के लिए 2.7 करोड़ रुपये (चार करोड़ 45 लाख नेपाली रुपये या चार लाख 30 हजार 626 डॉलर) की कुल वित्तीय सहायता दी. आरसीसी पुल के निर्माण से पहले कालीगंडकी नदी पर बने पुराने सस्पेंशन ब्रिज का मोटरसवार लोग इस्तेमाल नहीं कर सकते थे.

बता दें कि आईएनईसी ने 76 अरब से अधिक नेपाली रुपयों का व्यय किया है. जिसके तहत नेपाल सरकार के सहयोग से पूरे देश में 554 से अधिक बड़े और छोटे विकास परियोजनाओं को पूरा किया गया है या वर्तमान में कार्यान्वित किया जा रहा है. ये परियोजनाएं शिक्षा, स्वास्थ्य और बुनियादी ढांचा क्षेत्रों पर ध्यान केंद्रित करती हैं.


Check Also

राजनयिक संबंधों में सुधार के परिणामस्वरूप इज़राइली एयरलाइंस ने मोरक्को के लिए पहली वाणिज्यिक सीधी उड़ानें की शुरू…

पिछले साल इज़राइल और मोरक्को के बीच राजनयिक संबंधों में सुधार के परिणामस्वरूप इज़राइली एयरलाइंस …