Home >> Breaking News >> अभी अभी : हिमाचल प्रदेश में 68 सीटोें पर मतदान हुआ शुरू, सुरक्षा के किए कड़े इंतजाम….

अभी अभी : हिमाचल प्रदेश में 68 सीटोें पर मतदान हुआ शुरू, सुरक्षा के किए कड़े इंतजाम….


शिमला: हिमाचल प्रदेश में 68 विधानसभा सीटों के लिए मतदान हो रहा है. मतदान को लेकर लोगों में खासा उत्साह देखने को मिल रहा है. ऊंचाई वाले इलाकों में सर्दी के बाद भी मतदान केंद्रों के बाहर लोगों की लाइन लगी हुई हैं. महिलाएं तथा बुजुर्ग लोकतंत्र के इस महापर्व में बढ़चढ़ कर हिस्सा ले रहे हैं. इन चुनावों में 62 विधायकों सहित 337 उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमा रहे हैं.

मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह, 10 मंत्री, आठ मुख्य संसदीय सचिव, विधानसभा के उपाध्यक्ष जगत सिंह नेगी, पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल और एक दर्जन से ज्यादा पूर्व मंत्री समेत अन्य चुनावी मुकाबले में हैं. हिमाचल का चुनाव स्थानीय राजनीति के साथ-साथ केंद्र की राजनीति पर भी असर डालेगा. कल ही 8 नंवबर को केंद्र सरकार ने नोटबंदी के एक साल पूरे किए थे. उधर, कांग्रेस समेत तमाम विपक्षी दलों ने समूचे देश में इसे काले दिन के रूप में मनाया था. विरोधियों की अपील मतदाताओं पर कितना असर डालेगी ये ठीक 40 दिन बाद मतगणना के दौरान ही पता चलेगा. हां, इतना जरूर है कि भाजपा हो या कांग्रेस या फिर अन्य कोई भी दल चुनाव प्रचार में सभी ने अपनी पूरी ताकत लगा दी. दिन-रात एक करते हुए ज्यादा से ज्यादा लोगों को अपनी ओर जोड़ने की कोशिश की.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मतदान को लोकतंत्र का महापर्व बताते हुए लोगों से बड़ी संख्या में इसमें भाग लेने की अपील की है. आज देवभूमि हिमाचल प्रदेश में मतदान का दिन है। मेरी विनती है कि सभी मतदाता लोकतंत्र के महापर्व में भाग लें और भारी संख्या में मतदान करें।

12 दिवसीय सघन प्रचार अभियान में भाजपा और कांग्रेस के स्टार प्रचारकों ने 450 से ज्यादा रैलियां कीं. भाजपा के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सात तो भाजपा प्रमुख अमित शाह ने छह रैलियों को संबोधित किया. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने तीन रैलियों को संबोधित किया
भ्रष्टाचार को मुख्य मुद्दा बनाकर प्रचार अभियान में भाजपा ने मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह पर जमकर निशाना साधा जबकि कांग्रेस ने जीएसटी और नोटबंदी को लेकर कांग्रेस पर प्रहार किया. धर्मशाला में सबसे ज्यादा 12 उम्मीदवार मैदान में हैं. भाजपा ने पूर्व मंत्री अनिल शर्मा सहित चार पूर्व कांग्रेसियों को तथा चौपाल से एक निर्दलीय को टिकट दिया है जबकि कांग्रेस ने पोंटा साहिब और कांगड़ा से दो निर्दलीय को उतारा है.

उधर, मतदान के दौरान किसी भी अप्रिय घटना ना हो, इसके लिए पूरे राज्य में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं. मतदान केंद्रों पर बड़ी संख्या में सुरक्षा बल तैनात किए गए हैं. करीब 12,000 हिमाचल प्रदेश पुलिस, 6500 होमगार्ड्स तथा अर्द्धसैन्य बलों की 65 कंपनियां तैनात की गई हैं.

 

Check Also

दिल्ली में टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी और कांग्रेस नेता कमलनाथ के बीच हुई मुलाकात

नई दिल्ली: तृणमूल कांग्रेस के प्रमुख और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कांग्रेस के …