Home >> Health Tips >> नींद की समस्या से हो सकता है इन बिमारियों का खतरा

नींद की समस्या से हो सकता है इन बिमारियों का खतरा


नींद सही तरीके से नहीं होना इस बात का संकेत हो सकता है कि अन्य तरीके से स्वस्थ्य रहने वाले व्यक्ति को अल्जाइमर की बीमारी होने का खतरा हो सकता है। आज हम यदि नींद की बात करे तो हम सभी ये जानते है कि पर्याप्त नींद नहीं लेने से हमारे माइंड पर विपरीत प्रभाव पड़ते है। नींद की समस्या का संबध खराब याददाश्त और उम्रदराज लोगों में कामकाजी गतिविधियों से भी है। 

एक अध्ययन में पता चला है कि नींद की अवधि और गुणवत्ता का संबंध उम्र बढ़ने के साथ दिमाग में होने वाले बदलावों से है। वयस्कों में 50 से 64 वर्ष की उम्र सीमा वाले व्यक्तियों में अपर्याप्त नींद (छह घंटे से कम) और पर्याप्त नींद (आठ घंटे से ज्यादा) का कमजोर दिमाग और गतिविधियों के साथ संबंध है। 

इसके विपरीत, 65 से 89 वर्ष उम्र सीमा के व्यक्तियों में ज्यादा नींद लेने वालों में दिमाग संबंधी विकार देखे गए हैं। ब्रिटेन के युनिवर्सिटी ऑफ वारविक की मिशेल मिलर ने कहा, “युवाओं में दिमाग को स्वस्थ और सक्रिय रखने के लिए 6 से 8 घंटे की नींद बेहद जरूरी है।” 

उन्होंने कहा, “नींद और दिमाग से जुड़े इस अध्ययन के नतीजों का हमारे पिछले अध्ययन से भी संबंध है, जिसमें पता चला है कि 6 से 8 घंटे की नींद अच्छे शारीरिक स्वास्थ्य, मोटापे के खतरे को कम करने, मधुमेह, ह्वदय रोगों और और ह्वदयाघात के खतरों को कम करने के लिए जरूरी है।”


Check Also

इन चीजों के इस्तेमाल से आप थायराइड की समस्या से पा सकते हैं छुटकारा

आजकल ज्यादातर लोग थायराइड की बीमारी से परेशान रहते हैं। थायराइड ग्रंथि थायरोक्सिन नामक हार्मोन …