Home >> Breaking News >> ‘घर वापसी’, राम मंदिर जैसे मुद्दों पर मोदी सरकार से कोई टकराव नहीं: वीएचपी

‘घर वापसी’, राम मंदिर जैसे मुद्दों पर मोदी सरकार से कोई टकराव नहीं: वीएचपी


नई दिल्ली,(एजेंसी) 15 जनवरी । धर्मांतरण को लेकर देश में विवाद के बीच विश्व हिंदू परिषद ने आज कहा कि कोई भी उसे ‘घर वापसी’ और राम मंदिर निर्माण के उसके मुख्य एजेंडा से डिगा नहीं सकेगा और संगठन इन मुद्दों पर एक मार्च को दिल्ली में बड़ा सम्मेलन आयोजित करेगा । वीएचपी के संयुक्त महासचिव सुरेंद्र जैन ने कहा कि वीएचपी अपने कोर एजेंडा के विषयों पर राष्ट्रव्यापी कार्यक्रम के तहत एक मार्च को जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में ‘धर्म सभा’ का आयोजन करेगी। इसमें अशोक सिंघल और प्रवीण तोगड़िया जैसे बड़े नेता संबोधित करेंगे।

AshokSinghal_AFP
फ़ाइल फ़ोटो: बीएचपी नेता अशोक सिंघल

धारा 144 के उल्लंघन के आरोप में नकवी दोषी करार, गिरफ्तारी के बाद मिली जमानत

वीएचपी ने अभी तक देशभर में ऐसी 450 सभाएं की हैं और मार्च तक कुल 600 सभाओं का आयोजन करेगी। जैन ने कहा कि ‘घर वापसी’, गौसंरक्षण, समान नागरिक संहिता और राम मंदिर निर्माण जैसे अहम मुद्दों पर देशभर में ‘धर्म सभाएं’ जारी रखेंगे। जब जैन से पूछा गया कि क्या वीएचपी से इस तरह के मुद्दों को नहीं उठाने और बीजेपी नीत सरकार को इस तरह के मुद्दों पर नहीं घेरने के लिए कहा जाता है तो उन्होंने इससे इनकार करते हुए कहा,‘‘किसी ने हमसे अपना कार्यक्रम रोकने को नहीं कहा है।’’

praveen-togadia-vhp
फ़ाइल फ़ोटो: बीएचपी के प्रवीण तोगड़िया

उन्होंने कहा कि इन मुद्दों को लेकर सरकार से कोई टकराव नहीं है और न ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विकास और सुशासन का एजेंडा पटरी से उतरेगा। जैन ने बताया कि वीएचपी मार्च तक देशभर में 600 ‘धर्म सभाएं’ आयोजित करने के बाद अप्रैल-मई में देशभर में 50,000 ‘राम महोत्सव’ का आयोजन करेगी जहां संत और वीएचपी नेता भगवान राम को लेकर अपने विचार रखेंगे और संगठन के एजेंडा को जनता तक ले जाएंगे।


Check Also

किसी के बाप की हिम्मत नहीं है वो फिल्म सिटी ले जाए, हम महाराष्ट्र से कुछ भी ले जाने नहीं देंगे : सामना

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने राज्य में फिल्म सिटी बनाने की योजना बना …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *