Wednesday , 19 June 2019
खास खबर
Home >> 2019 >> April >> 03

Daily Archives: April 3, 2019

खतरनाक बीमारी न्यूमोनिया को इन नुस्खों से भी कर सकते हैं दूर

यदि तेज बुखार और खांसी हो रही है तो यह न्यूमोनिया होने के संकेत हैं. ये बीमारियां कभी  भी हो सकती हैं और इसके कारण भी कुछ भी हो सकते हैं. इतना ही नहीं, यह संक्रमण ना केवल संक्रामक है बल्कि इससे आपके जीवन को खतरा भी हो सकता है. बच्चे और बूढ़ो को इस समस्या से अधिक ग्रसित होने का खतरा रहता है. जानकारी के लिए बता दें, न्यूमोनिया एक माइक्रोबियल इंफेक्शन होता है जो सीधे फेफड़ों को प्रभावित करता है. इसके उपाय हम आपको बताने जा रहे हैं जिससे आपको भी राहत मिलेगी या आप इससे दूर बने रहेंगे.  खतरनाक बीमारी न्यूमोनिया को कर सकते हैं दूर, अपनाये ये टिप्स लहसुन: लहसुन को आप चबा सकते हैं या फिर अपने आहार में शामिल कर सकते हैं. लहसुन का पेस्ट बनाकर भी आपके अपनी छाती पर लगा सकते हैं. इस विधि को रोजाना एक बार इस्तेमाल करें. लहसुन में एंटीबैक्टीरियल और एंटीफंगल गुण होते हैं जो फेफड़ों और गले से कफ को साफ़ करता है. हल्दी: 1 गिलास दूध में 1 चम्मच हल्दी मिलाएं और उसे नियमित रूप से सेवन ... Read More »

चार्जशीट को अनुमति मुद्दे पर दिल्ली सरकार ने कोर्ट से मांगा एक महीना

देश के नामी संस्थानों में शुमार जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (Jawaharlal Nehru University) में देशविरोधी नारे लगाने के मामले में बुधवार को पटियाला हाउस कोर्ट (Patiala House Court) में सुनवाई हुई। इस दौरान दिल्ली सरकार ने अपने वकील के जरिये कोर्ट से एक महीने का समय मांगते हुए कहा कि चार्जशीट को अनुमति देने का मामला गृह विभाग (दिल्ली सरकार) के विचाराधीन है। इसमें तकरीबन एक महीने का समय लगेगा। इस पर कोर्ट ने कहा कि इस पर निश्चित समयाविधि में अपना उचित जवाब दें। यहां पर बता दें कि पिछली सुनवाई में दिल्ली पुलिस की ओर से कोर्ट को जानकारी दी गई थी कि अभी तक मुकदमा चलाने की मंजूरी दिल्ली सरकार से नहीं मिली है। इतना ही नहीं, पुलिस ने कोर्ट को यह भी बताया था कि इस प्रक्रिया में दो से तीन माह का समय लग सकता है। इस पर कोर्ट ने दिल्ली पुलिस से सवालिया लहजे में पूछा था कि जब मंजूरी नहीं मिली थी तो आरोप पत्र दाखिल करने की जल्दी क्या थी?  Read More »

कांग्रेस-AAP के बीच गठबंधन के मुद्दे पर दोनों नेताओं ने तंज कसते हुए एक-दूसरे के सवालों के जवाब भी दिए

 Lok Sabha Election 2019: लोकसभा चुनाव-2019 के प्रथम चरण के लिए मतदान होने में तकरीबन एक सप्ताह का समय है और सभी राजनीतिक दलों ने चुनाव प्रचार तेज कर दिया है। वहीं, दिल्ली में पिछले चार साल से सत्तासीन आम आदमी पार्टी (aam aadmi party) के नेता आपस में भिड़ते नजर आ रहे हैं। इस कड़ी में आम आदमी पार्टी के ही दो सम्मानित विधायक आपस में भिड़ गए। इनमें एक महिला विधायक अलका लांबा हैं, तो दूसरे दिल्ली सरकार में मंत्री रहे सौरभ भारद्वाज। ट्विटर पर पूर्ण राज्य और कांग्रेस-AAP के बीच गठबंधन के मुद्दे पर हुई इस भिड़ंत में दोनों नेताओं ने एक-दूसरे पर शब्दों के बाण चलाए और तंज कसते हुए एक-दूसरे के सवालों के जवाब भी दिए। इस दौरान ट्विटर ग्रेटर कैलाश से विधायक और पार्टी के मुख्य प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज और चांदनी चौक से विधायक अलका लांबा के बीच काफी बहस हुई। बहस की कड़ी में चांदनी चौक से विधायक अलका लांबा ने ट्वीट किया- ‘हर पार्टी का अपना घोषणा पत्र होता है, कांग्रेस के घोषणा पत्र में पुडुचेरी को तो पूर्ण राज्य देने की बात है पर दिल्ली को लेकर ... Read More »

लोकसभा चुनाव-2019 के तहत छठे चरण में दिल्ली की सातों लोकसभा सीटों पर 12 मई को मतदान होना है

 Lok Sabha Election 2019: लोकसभा चुनाव-2019 के तहत छठे चरण में दिल्ली की सातों लोकसभा सीटों पर 12 मई को मतदान होना है। जहां आम आदमी पार्टी (aam aadmi party) ने सातों लोकसभा सीटों (चांदनी चौक, नई दिल्ली, पूर्वी दिल्ली, दक्षिणी दिल्ली, पश्चिमी दिल्ली, उत्तर पूर्वी दिल्ली और उत्तर पश्चिमी दिल्ली) पर उम्मीदवारों का ऐलान करके बाजी मार ली है, वहीं भाजपा इसकी तैयारी में जुटी है। भाजपा और AAP के विपरीत दिल्ली में कांग्रेस का हालात ज्यादा ठीक नहीं है। अभी तक वह AAP से गठबंधन को लेकर उलझन में है।  इस बीच जानकारी सामने आ रही है कि AAP से गठबंधन नहीं होने की सूरत में दिल्ली के आधा दर्जन कांग्रेस नेताओं ने चुनाव लड़ने इनकार कर दिया है। बताया जा रहा है कि अजय माकन, कपिल सिब्बल, संदीप दीक्षित, शर्मिष्ठा मुखर्जी और ओमप्रकाश बिधूड़ी समेत अन्य कई नेताओं ने आलाकमान को अपने निर्णय से अवगत करा दिया है। वहीं, एक खबर यह भी आ रही है कि जयप्रकाश अग्रवाल, महाबल मिश्रा और रमेश कुमार ने गठबंधन नहीं होने पर भी चुनाव लड़ने के लिए तैयार नजर आ रहे हैं।  हैरानी ... Read More »

JDU उम्मीदवार ने ये कहकर लौटाया टिकट, नीतीश ने BJP नेता पर किया भरोसा

बिहार के सीतामढ़ी संसदीय क्षेत्र से जदयू के उम्मीदवार डॉक्टर वरुण कुमार ने नामांकन से पहले अपना टिकट पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को लौटा दिया है। बुधवार को उन्होंने नीतीश कुमार से मुलाकात कर उन्हें अपना टिकट सौंप दिया। उनके टिकट लौटाने के कुछ ही देर बाद भाजपा नेता और पूर्व मंत्री सुनील कुमार पिंटू ने जदयू कार्यालय में पार्टी की सदस्यता ग्रहण की और उन्हें सीतामढ़ी से जदयू प्रत्याशी चुनकर टिकट उन्हें दे दिया गया। उन्होंने सीएम नीतीश कुमार से मुलाकात कर पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। सदस्यता ग्रहण करने के बाद सुनील कुमार पिंटू ने कहा कि एनडीए मजबूत है और इस बार एनडीए की भारी बहुमत से जीत होगी। सुनील कुमार पिंटू ने कहा कि जदयू में आकर अच्छा लग रहा है। मैं खुश हूं कि नीतीश कुमार ने हमपर विश्वास जताया है। हम मजबूती से चुनाव लड़ेंगे। एेसा सीतामढ़ी की जनता का विश्वास है। कार्यक्रम में मंत्री ललन सिंह ने कहा कि वरुण कुमार ने खुद अपना सिंबल छोड़ा है।पिंटू ने मंत्री रहते हुए भी अच्छा काम किया है। हम सभी उनका स्वागत करते ... Read More »

फर्जी आइडी पर दो माह पहले कोठगोदाम से तीन बुलेट किराये पर ली गई थीं

 युवाओं में इन दिनों बुलेट का काफी क्रेज है, उनकी इस पसंद का फायदा अब अपराधी भी उठाने लगे हैं। शातिर दिमाग अपराधियों ने काठगोदाम से किराये पर तीन बुलेट लीं और कानपुर आ गए। यहां पर बुलेट को मुफीद जगह छिपाने के लिए रेलवे स्टेशन की पार्किंग को चुना। लेकिन इससे पहले ही आरपीएफ की नजर बुलेट पर पड़ गई और जांच में परत दर परत सारा सच सामने आ गया। अब आरपीएफ की सूचना पर काठगोदाम की उत्तराखंड पुलिस कानपुर आ रही है। आशंका है कि इन वाहनों का प्रयोग किसी बड़ी गतिविधि को अंजाम देने के लिए किया गया है। मंगलवार सुबह उत्तराखंड की काठगोदाम पुलिस की एसओजी टीम ने आरपीएफ को फोन पर कानपुर में एक आसमानी कलर की बुलेट किसी पार्किंग में खड़ी होने की सूचना दी। जांच की गई तो सिटी साइड पार्किंग में यह बुलेट खड़ी मिली। इसके बाद आरपीएफ ने काठगोदाम पुलिस को बुलेट की बरामदगी की जानकारी दी। इसके बाद वहां से एसओजी की टीम कानपुर के लिए रवाना हो गई। काठगोदाम पुलिस के एसआइ डीएस मेहता ने दैनिक जागरण संवाददाता ... Read More »

संपवेल की गंदगी के बाद सोमवार रात रामघाट पर मरी मछलियां निकाल कर घर ले जाते रहे लोग

तीन दिन से लगातार सीवेज की गंदगी मंदाकिनी नदी में गिरने से पानी जहरीला हो गया है और आक्सीजन कम होने के कारण हजारों मछलियों की मौत हो गई। सुबह मछलियां लूटने के लिए आसपास के ग्रामीणों में होड़ लगी रही तो पुलिस ने उनको खदेड़ा। मंदाकिनी नदी में गंदगी से श्रद्धालुओं और लोगों में नाराजगी बनी है। रामघाट पर बूढ़े हनुमान मंदिर से कुछ दूर स्थित संपवेल से 31 मार्च से लाखों लीटर गंदा पानी मंदाकिनी में गिर रहा है। इसका असर सोमवार रात पानी में घुलित आक्सीन कम होने पर नजर आया। रामघाट पर नया गांव रपटा के पास दोनों तरफ तटों पर हजारों की संख्या में छोटी-बड़ी मछलियों की मौत हो गई। कुछ देर के लिए गंदगी की जगह पूरा पानी मछलियों के कारण सफेद हो गया। इससे आसपास के लोगों की भीड़ लग गई। सीतापुर पुलिस चौकी प्रभारी राम वीर ङ्क्षसह फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। उन्होंने मछलियां लेकर जा रहे लोगों को फटकार लगाई। साथ में गंदगी गिरने को लेकर संपवेल कर्मियों को आड़े हाथ लिया। डीएम विशाख जी. ने बताया कि मामले की ... Read More »

शादी दूसरी जगह तय हो जाने पर प्रेमिका और प्रेमी ने जहर खाकर दी जान एक बिस्तर पर पड़े मिले शव

साथ जीने-मरने की कसम खा चुके प्रेमी युगल को शादी दूसरी जगह तय होना नागवार गुजरा। बरात आने के पहले प्रेमिका ने प्रेमी के घर गई और फिर दोनों ने जहरीला पदार्थ खाकर दुनिया छोड़ दी। एक ही बिस्तर पर प्रेमी युगल के शव पड़े देखकर लोग सन्न रह गए। पुलिस को घटनास्थल से सुसाइड नोट भी मिला है। युवती के पिता की तहरीर पर पुलिस मामले की जांच कर रही है। पैलानी थाना क्षेत्र के ग्राम सबादा मजरा जगुवा डेरा निवासी 20 वर्षीय हंसराज निषाद का पिता बंगलुरू में रहकर प्राइवेट नौकरी करता है। हंसराज गांव में दादी के साथ घर में रहता था। उसका पड़ोस में रहने वाली सजातीय 18 वर्षीय युवती से तकरीबन एक वर्ष से प्रेम प्रसंग चल रहा था। दोनों छिप छिप कर मिलते थे और साथ जीने-मरने की कसमें खाईं थीं। परिजनों ने युवती की शादी दूसरी जगह तय कर दी थी और 12 मई को बरात आनी थी। इसके बाद से प्रेमिका व प्रेमी काफी मायूस थे।  मंगलवार रात घर वालों की नजर बचाकर युवती प्रेमी के घर पहुंच गई। देर रात दोनों ... Read More »

…जब लाल बहादुर शास्त्री को प्रतिद्वंद्वी संड ने ही दे दिया मंच और माइक

आजादी  बाद के दिनों में और अब होने वाले चुनाव की बात करें तो अनगिनत प्रसंग हैं बदलाव के। ऐसा ही एक प्रसंग करीब 56 वर्ष पुराना है। इससे यह पता चलता है कि पहले नेताओं में एक दूसरे के प्रति प्रतिद्वंद्विता के बावजूद कितना सम्मान होता था। एजी ऑफिस और शिक्षा निदेशालय के गेट पर जनसंघ के प्रत्याशी राम गोपाल संड के समर्थन में एक चुनावी सभा थी। उस सभा में कांग्रेस प्रत्याशी लाल बहादुर शास्त्री भी पहुंच गए थे। उनके आग्रह पर संड ने मंच छोड़ दिया और शास्त्री जी के संबोधन के बाद उन्होंने अपना भाषण दिया। बात 1962 की है, शास्त्री और संड वर्ष 1962 के आम चुनाव में इलाहाबाद संसदीय सीट से कांग्रेस के प्रत्याशी थे लाल बहादुर शास्त्री और जनसंघ से थे राम गोपाल संड। केंद्रीय और राज्य कर्मचारी इलाहाबाद शहर को बी श्रेणी का दर्जा दिलाने की मांग को लेकर आंदोलन कर रहे थे। कर्मचारियों का कहना था कि शहर के सी श्रेणी में शामिल होने की वजह से उन्हें एचआरए, सीसीए कम मिलता था। शहर को अपग्रेड करने से उनके इन भत्तों ... Read More »

लाेकसभा चुनाव से पहले धौरहरा संसदीय सीट से कांग्रेस प्रत्याशी जितिन प्रसाद आचार संहिता के उल्लंघन में फंस गए

लाेकसभा चुनाव से पहले धौरहरा संसदीय सीट से कांग्रेस प्रत्याशी व पूर्व मंत्री जितिन प्रसाद आचार संहिता के उल्लंघन में फंस गए हैं। जितिन प्रसाद द्वारा बिना पूर्वानुमति के सीतापुर के हरगांव कस्बा स्थित पर्यटन विभाग के अतिथि गृह में बैठक को जिला प्रशासन ने बेहद गंभीरता से लिया है। बीते सोमवार (एक अप्रैल) की दोपहर आयोजित इस बैठक में करीब 60 लोग मौजूद थे। जिस पर मंगलवार (दो अप्रैल) को स्टैटिक मजिस्ट्रेट अभय कुमार माल्य ने जितिन प्रसाद के खिलाफ हरगांव थाने में आचार संहिता के उल्लंघन का मुकदमा दर्ज कराया है। स्टैटिक मजिस्ट्रेट ने बताया कि चुनाव में असामयिक असर डालने के लिए बिना पूर्व अनुमति के सरकारी भवन में सभा की जा रही थी। जिस पर धारा 171(च) के तहत आचार संहिता के उल्लंघन का मामला दर्ज कराया गया है। ऐसा रहा राजनीतिक सफर  जितिन प्रसाद सबसे पहले 2001 में भारतीय युवा कांग्रेस में सचिव बने थे। उन्होंने 2004 में अपने गृह लोकसभा सीट, शाहजहांपुर से 14वीं लोकसभा चुनाव में जीत दर्ज की। पहली बार जितिन प्रसाद को 2008 में केन्द्रीय राज्य इस्पात मंत्री नियुक्त किया गया। उसके बाद 2009 ... Read More »

Study Mass Comm