Wednesday , 19 June 2019
खास खबर
Home >> 2019 >> April >> 05

Daily Archives: April 5, 2019

लालकृष्ण आडवाणी वह ‘विवादित’ बयान, जिसने 2004 में मचा दी थी खलबली

 अपने ताजा ब्लॉग से चर्चा में आए भाजपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व उपप्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी ने 15 साल पहले भी देश भर के क्षेत्रीय दलों का असहज कर दिया था। आडवाणी ने 3 मार्च 2004 को पलवल (फरीदाबाद लोकसभा क्षेत्र) में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा था- ‘देशवासियों को देश हित में राष्ट्रीय दलों को ही वोट करना चाहिए। क्षेत्रीय दलों के मजबूत होने से केंद्र में मजबूत नहीं, बल्कि मजबूर सरकार बनती है।’ असल में तब आडवाणी पांच साल चली एनडीए सरकार के दौरान क्षेत्रीय दलों के रूठने-मनाने के कुचक्र से इतने दुखी थे कि उन्होंने अपना बयान देने से पहले यह भी नहीं सोचा कि जहां वे यह बात कह रहे हैं, वहां के प्रमुख क्षेत्रीय दल के साथ उन्होंने पांच साल तक केंद्र में सरकार चलाई है। दिल्ली से 60 किलोमीटर दूर पलवल में दिए इस बयान के बाद देश की राजनीति में तूफान आ गया था। तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की कोर टीम के भाजपा नेताओं ने आडवाणी के इस बयान से किनारा भी किया था। इतना ही नहीं, 2004 के इंडिया शाइनिंग के ... Read More »

गठबंधन पर अब केवल कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की इस पर मुहर लगने भर का इंतजार है

लंबे समय से चल रही हां और ना के बीच आखिरकार आम आदमी पार्टी(AAP) और कांग्रेस के बीच गठबंधन पर सैद्धांतिक सहमति बन गई है। सीटों का बंटवारा भी हो गया है। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (एआइसीसी) के महासचिव व दिल्ली प्रभारी पीसी चाको के साथ AAP सांसद संजय ¨सह ने गठबंधन का मसौदा भी तैयार कर लिया है। अब केवल कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की इस पर मुहर लगने का इंतजार है। गठबंधन की घोषणा भी जल्द ही चाको और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष शीला दीक्षित द्वारा संयुक्त रूप से कर दी जाएगी। पार्टी सूत्रों के मुताबिक, अभी तक कांग्रेस की ओर से गठबंधन का मोर्चा वरिष्ठ कांग्रेस नेता अहमद पटेल और गुलाम नबी आजाद ने संभाल रखा था, लेकिन राहुल ने हाल ही में दिल्ली प्रभारी होने के नाते चाको को इस पर अंतिम मसौदा तैयार करने का निर्देश दिया था। इसी निर्देश के मद्देनजर बुधवार शाम चाको और संजय सिंह के बीच लंबी मुलाकात हुई। इस मुलाकात में सीटों की संख्या का पेच भी सुलझा लिया गया। विश्वस्त सूत्र बताते हैं कि पहले आप दिल्ली की सात सीटों में से अपने लिए पांच की मांग कर ... Read More »

कल आएंगी प्रियंका, फतेहपुर में जनसभा कर राकेश सचान के लिए मांगेंगी वोट

कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका वाड्रा अब 6 अप्रैल को कानपुर आएंगी। हालांकि इस बार भी शहर में उनका कोई कार्यक्रम नहीं है। वह सीधे अहिरवां एयरपोर्ट पर उतरकर फतेहपुर के लिए निकल जाएंगी, जहां वह फतेहपुर से कांग्रेस प्रत्याशी राकेश सचान के लिए औंग में आयोजित सभा को संबोधित करेंगी।कल आएंगी प्रियंका, फतेहपुर में जनसभा कर राकेश सचान के लिए मांगेंगी वोट अहिरवां एयरपोर्ट पर शनिवार को प्रियंका वाड्रा सुबह 9 बजे पहुंचेंगी। यहां कानपुर नगर और अकबरपुर लोकसभा के प्रत्याशियों के साथ शहर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष, नगर ग्रामीण और ग्रामीण अध्यक्ष से मुलाकात करेंगी। कांग्रेसियों से मुलाकात करने के बाद वह सड़क मार्ग से सीधे फतेहपुर निकल जाएंगी। शहर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष हरप्रकाश अग्निहोत्री ने बताया कि कांग्रेस प्रत्याशी राकेश सचान के लिए वह औंग में एक जनसभा को संबोधित करेंगी। इस संबंध में कार्यक्रम आने के बाद ही वह पुख्ता तौर पर बता सकेंगे कि मुलाकात करने के लिए कौन-कौन जाएगा। फिलहाल एसपीजी के माध्यम से उन्हें यह जानकारी हुई है। Read More »

फूलन देवी की मां ने जारी किया चंबल का घोषणा पत्र, जानें कैसे बदल सकती है बीहड़ की सूरत

 राजनीतिक दल के लोग जहां लोक लुभावन वादे कर रहे हैं, वहीं उत्तर प्रदेश व मध्य प्रदेश के बीहड़ी इलाकों के विकास को लेकर चंबल जन घोषणा पत्र तैयार किया गया है। जालौन जिले के चर्चित गांव शेखपुर गुढ़ा की रहने वाली पूर्व सांसद फूलन देवी की मां मुला देवी द्वारा जारी घोषणा पत्र का अगर संज्ञान लिया जाए तो बीहड़ के गांवों की सूरत बदल सकती है। इटावा निवासी शाह आलम शेखपुर गुढ़ा पहुंचे और उन्होंने मेनिफेस्टो जारी कराया। औरैया शहर स्थित काकोरी कांड के नायक भारतवीर मुकंदीलाल की प्रतिमा से 2338 किमी साइकिल यात्रा करने के बाद उन्होंने घोषणा पत्र तैयार किया है। लगभग सभी जगह शिक्षा, रोजगार, सड़क व पेयजल की समस्या सामने आई हैं। यहां के बाशिंदे आजादी के बाद से इन समस्याओं से घिरे हुए हैं। शाह आलम कहते हैं कि चंबल के साथ सौतेला व्यवहार नहीं होने दिया जाएगा। ये हैं प्रमुख मांगें -चंबल की बुनियादी समस्याओं का अध्ययन और तत्काल निदान के लिए ‘चंबल आयोगÓ बनाया जाए। -चंबल की ऐतिहासिक धरोहरों को संरक्षित कर पर्यटन मानचित्र से जोड़ा जाए -चंबल विशेष पैकेज के ... Read More »

बॉलीवुड के प्रसिद्ध अभिनेता बोमन ईरानी ने साझा किए अनुभव

बचपन से ही फिल्में देखना बहुत पसंद था, लेकिन कभी सोचा नहीं था कि मैं फिल्मों में काम करूंगा। उस समय बहुत ज्यादा प्लेटफॉर्म नहीं थे, सोशल मीडिया का भी प्रभाव नहीं था। मेरी मां और कुछ दोस्तों की प्रेरणा से मेरा फिल्मों की ओर रूझान बढ़ा और फिल्में देख देख कर अभिनेता बन गया। यह बातें लोकप्रिय अभिनेता बोमन ईरानी ने कहीं। अपनी मेहनत और लगन से करीब 35 वर्षों से थियेटर और फिल्मों में अपनी अदाकारी का लोहा मनवाने वाले बोमन बेहद ही साधारण इंसान है। बचपन से ही फिल्में देखना बहुत पसंद था, लेकिन कभी सोचा नहीं था कि मैं फिल्मों में काम करूंगा। उस समय बहुत ज्यादा प्लेटफॉर्म नहीं थे, सोशल मीडिया का भी प्रभाव नहीं था। मेरी मां और कुछ दोस्तों की प्रेरणा से मेरा फिल्मों की ओर रूझान बढ़ा और फिल्में देख देख कर अभिनेता बन गया। यह बातें लोकप्रिय अभिनेता बोमन ईरानी ने कहीं। अपनी मेहनत और लगन से करीब 35 वर्षों से थियेटर और फिल्मों में अपनी अदाकारी का लोहा मनवाने वाले बोमन बेहद ही साधारण इंसान है।  वर्ष 1981 में हंसराज ... Read More »

मुस्लिम धर्मगुरुओं ने कहा देशद्रोह कानून हटाकर किसका भला करना चाहती है कांग्रेस

मुस्लिम धर्मगुरुओं ने कांग्रेस के घोषणा पत्र में राष्ट्रद्रोह की धारा 124 ए को समाप्त करने के वादे पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के इस वादे से यह पता चलता है कि मुस्लिमों के प्रति कांग्रेस का नजरिया क्या है। मुस्लिम धर्मगुरुओं ने कांग्रेस के इस कदम की आलोचना करते हुए कहा है कि देश के मुसलमान देशद्रोही नहीं हो सकते। कांग्रेस को यह बताना होगा कि यह कदम उसने किसके लिए उठाया है। ऐशबाग ईदगाह के इमाम मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली कहते हैं कि मुसलमानों का देशद्रोह से कोई वास्ता नहीं है, जो भी देशद्रोह का मुकदमे दर्ज हुए हैं, उनमें सारे मुसलमान ही नहीं हैं। देश का दुश्मन हमारा दुश्मन है। इससे बेहतर होता कि कांग्रेस अपने घोषणापत्र में आर्टिकल 341 में जो मजहबी पांबदी लगी है वह हटाने की बात करती। इसमें मुस्लिम और ईसाई को भी शामिल करना चाहिए। शहरकाजी मुफ्ती इरफान मियां फरंगी महली कहते हैं कि कांग्रेस अगर ऐसा सोचती है कि मुस्लिम देशद्रोही हैं, यह बिलकुल गलत है। धारा हटाने से बेहतर होगा कि सिस्टम ऐसा बनाएं कि गुनाह ... Read More »

देहरादून के परेड मैदान में आयोजित चुनावी जनसभा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पर जोरदार हमला किया

देहरादून के परेड मैदान में आयोजित चुनावी जनसभा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पर जोरदार हमला किया। साथ ही कहा कि कांग्रेस की शासन में भ्रष्टाचार एक्सीलेटर में और विकास वेंटिलेटर में रहता है। साथ ही उन्होंने आतंकवाद, भ्रष्टाचार के मुद्दे पर भी कांग्रेस को घेरा। इस दौरान उन्होंने केंद्र की योजनाएं गिनाई और विकास के पथ पर देश को आगे बढ़ाने के लिए लोगों से सहयोग भी मांगा। इस मौके पर पीएम मोदी ने देवभूमि में बसे सभी देवी देवताओं को नमन करते हुए उत्तराखंड के सभी लोगों का समर्पण और सहयोग के लिए आभार जताया। उन्होंने कहा कि बाबा केदार के आशीर्वाद से आपके सहयोग से बीते पांच वर्ष तक देश को विकास के पथ पर आगे बढ़ाने के लिए आपका सेवक सफल हुआ। मेरी प्रेरणा आपकी आस्थाएं रही। मेरे साथ मजबूती से डटे रहे, इसीलिए हमारी सरकार देश हित में अपने बड़े और कड़े फैसले ले पाई। वन रेंक वन पेंशन का मुद्दा हम हल कर पाए पीएम मोदी ने कहा कि सामान्य वर्ग के लोगों को 10 प्रतिशत का आरक्षण दे पाए। कांग्रेस तो ढकोसलों से ... Read More »

आईटीआर-1 सहज फॉर्म में कोई बदलाव नहीं किया गया है जिसे आमतौर पर नौकरी पेशा लोग भरते हैं

 आयकर विभाग ने आकलन वर्ष 2019-20 के लिए इंडिविजुअल्स और कंपनियों के लिए इनकम टैक्स रिटर्न फॉर्म को अधिसूचित कर दिया है। आईटीआर-1 सहज फॉर्म में कोई बदलाव नहीं किया गया है, जिसे आमतौर पर नौकरी पेशा लोग भरते हैं, हालांकि आईटीआर 2,3,5,6 और 7 में कुछ सेक्शन्स को और तर्कसंगत बनाया गया है। व्यक्तियों, फर्मों और कंपनियों को चालू वित्त वर्ष 2018-19 के दौरान अर्जित आय के लिए रिटर्न दाखिल करना होगा। आईटीआर-1 फॉर्म जिसे सहज फॉर्म भी कहा जाता है, व्यक्तिगत (इंडिविजुअल) करदाताओं के लिए होता है और इसे 50 लाख रुपए तक की आय वाले करदाता ही भर सकते हैं। इसमें नौकरी से होने वाली आय, हाउस प्रॉपर्टी (सिर्फ एक घर) से होने वाली आय, 5000 रुपये तक की कृषि आय और अन्य आय (ब्याज एवं कमीशन से होने वाली आय) शामिल होती है। आईटीआर-2 फॉर्म इंडिविजुअल्स और HUF (हिंदू अनडिवाइडेड फैमिली) के लिए होता है। इसे 50 लाख से ज्यादा की आमदनी वाला करदाता भर सकता है। इसमें बिजनेस और प्रोफेशन से होने वाली आय को शामिल नहीं किया जाता है। आईटीआर-3 फॉर्म इंडिविजुअल्स और HUF ... Read More »

व्रत में ऐसे रखें खुद को फिट, खाएं संतुलित आहार

नवरात्र के व्रत का भारतीय संस्कृति में विशेष महत्व है. हर कोई इस व्रत को रखता है और इसका पालन भी करता है. लेकिन 9 दिनों तक भूखा रहना भी आसान नहीं होता. इसके लिए हम आपके लिए कुछ हेल्दी फ़ूड लेकर आये हैं जो आपके काम आएंगे. व्रत रखने वालों को इस बात की जानकारी होनी चाहिए कि जो आप खा रहे हैं, क्या वह आपके स्वास्थ्य के लिए सही है. ऐसे में आपको बेहतर स्वास्थ्य के लिए सही व संतुलित आहार को लेना चाहिए. नवरात्र के व्रत के दौरान इन पौष्टिक खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए. * आलू  नवरात्र व्रत के दौरान खाद्य पदार्थों में आलू को सबसे ज्यादा पसंद किया जाता है. आलू बहुत फायदेमंद भी होता है. आलू में सबसे ज्‍यादा स्‍टॉर्च पाई जाती है. आलू को उबाल कर खाने से शरीर से अतिरिक्त चर्बी कम होती है.  * ड्राई फ्रूट्स  व्रत में काजू, बादाम, किशमिश, पिस्ता, अखरोट, मखाने और बादाम आदि खाया जाता है. इससे शरीर को ऊर्जा मिलती है. इसके अलावा ड्राई फ्रूट की खीर को लोगों द्वारा खूब पसंद किया जाता है. ... Read More »

गर्भवती भी रख सकती हैं व्रत, इन बातों का जरुर रखें ध्यान

इस साल चैत्र के नवरात्र 6 अप्रैल से शुरू हो रहे हैं. नवरात्र के दौरान हर तरफ भक्तिमय माहौल रहता है. नवरात्र में कुछ माता के भक्त पूरे व्रत रखते हैं तो कुछ दो (पहला और आखिरी) व्रत रखते हैं. वहीं नवरात्र के व्रतों के दौरान सबसे बड़ा सवाल खड़ा होता है कि क्या गर्भवती महिला को व्रत रखना चाहिए कि नहीं. सबसे पहले आपको इसमें खुद का ध्यान रखने की जरूरत होती है ताकि आपको कोई परेशानी ना आये. उसके बाद सोचे कि किस तरह रखा जाये व्रत. ऐसे में आपको हम बताने जा रहे हैं कि किस तरह और किस समय रख सकती हैं. इस समय न रखें व्रत  तीन महीने से कम का गर्भ होने पर महिला को व्रत नहीं रखना चाह‍िए, क्योंकि पहले तीन महीनों में ज्यादा देर तक भूखा रहने से जी मिचलाना और उल्टी की दिकक्त हो सकती है और चक्कर आने खतरा रहता है. हेल्‍थ एक्‍सपर्ट का भी मानना है क‍ि पूरी तरह स्वस्थ होने पर ही गर्भवती महिला को नवरात्र के व्रत रखने चाहिए. इसके साथ ही व्रत रखने में कुछ सावधानियां ... Read More »

Study Mass Comm