Tuesday , 19 February 2019
खास खबर
Home >> बिज़नेस

बिज़नेस

गोपनीयता मानकों के उल्लंघन के चलते आरबीआई यस बैंक पर मौद्रिक जुर्माना लगा सकता है

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) गोपनीयता मानकों के उल्लंघन के चलते यस बैंक पर मौद्रिक जुर्माना लगा सकता है। आरबीआई निजी बैंक के साथ सूचनाओं के आदान-प्रदान के गोपनीयता मानकों के उल्लंघन के लिए बैंक पर यह जुर्माना लगाएगा। जानकारी के मुताबिक आरबीआई इसे बाजार केंद्रित सूचना मानता है, जिसका लक्ष्य स्टॉक को बढ़ावा देना है।  सूत्रों के मुताबिक यह सरकारी और प्राइवेट बैंकों की ओर से की गईं नियामकीय खामियों पर लगाए गए जुर्माने के जैसा ही है और इसी तरह का जुर्माना उन पर भी लगाया गया है। आरबीआई के इस आदेश के बाद यस बैंक को केंद्रीय बैंक की इस चेतावनी का खुलासा करना पड़ा जिसकी वजह से बैंक शेयर 1.72 फीसद की गिरावट के साथ 217.45 रुपए के स्तर पर आ गए। यस बैंक की ओर से एनपीए में बदलाव को लेकर इसके समाधान में आरबीआई के आकलन का खुलासा किए जाने पर बैंक के शेयर में 14 फरवरी को 31 फीसद का उछाल आया था। यस बैंक के शेयर्स का सोमवार को हाल: सोमवार के कारोबार में यस बैंक के शेयर बीएसई पर दिन के 11 ... Read More »

प्रदूषण कारणों के चलते वेदांता के स्टरलाइट प्लांट को भारी विरोध प्रदर्शन का सामना करना पड़ा था

 सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को तमिलनाडु के तूतीकोरिन स्थित वेदांता के स्टरलाइट प्लांट को फिर से खोलने से इनकार कर दिया है। कंपनी के इस प्लांट को प्रदूषण चिंताओं के चलते भारी विरोध प्रदर्शनों का सामना करना पड़ा था। हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने कंपनी को हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाने की इजाजत दे दी है। न्यायमूर्ति आर एफ नरीमन की अध्यक्षता वाली एक पीठ ने कहा कि वह तमिलनाडु सरकार की राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण (एनजीटी) के आदेश के खिलाफ दायर याचिका को केवल सुनवाई की योग्यता के आधार पर मंजूरी दे रही है। पीठ ने यह भी कहा कि एनजीटी के पास संयंत्र को दोबारा खोलने की अनुमति देने का कोई अधिकार नहीं है। सुप्रीम कोर्ट वेदांता समूह की ओर से दायर याचिका पर सुनवाई कर रहा था, जिसमें उसने तमिलनाडु प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड को एनजीटी के आदेश लागू करने का निर्देश देने की मांग की थी। एनजीटी ने संयंत्र को बंद करने के सरकार के निर्णय को खारिज कर दिया था। गौरतलब है कि फैक्ट्री से होने वाले पर्यावरण प्रदूषण के खिलाफ पिछले साल 22 मई को प्रदर्शन कर रहे ... Read More »

इंश्योरेंस पॉलिसी कोई भी हो वह किसी भी वक़्त काम आ सकती है

 इंश्योरेंस पॉलिसी कोई भी हो वह किसी भी वक़्त काम आ सकती है। ऐसे में हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी तो जीवन के लिए हमेशा से ही उपयोगी रहा है। इसे वक़्त पर ले लेना न सिर्फ लाभ दिलाने वाला है बल्कि यह आज के समय की आवश्यकता भी बन गया है। इसमें वित्तीय स्थायित्व, मेडिकल ट्रीटमेंट और अन्य चीजें शामिल होती हैं। हम इस खबर में चार ऐसी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी के बारे में बता रहे हैं जो 2019 में आपके लिए उपयोगी होगा। ICICI लोम्बार्ड कम्प्लीट हेल्थ इंश्योरेंस ICICI लोम्बार्ड कम्प्लीट हेल्थ इंश्योरेंस को सर्वश्रेष्ठ स्वास्थ्य बीमा योजना के रूप में जाना जाता है। कैशलेस अस्पताल में भर्ती, मुफ्त स्वास्थ्य जांच, 15 दिनों के लिए मुफ्त देखने की अवधि, टैक्स लाभ, आपातकालीन एम्बुलेंस कवर आदि इसमें शामिल है। इसके साथ, यह एक आजीवन रिन्यू करने का ऑप्शन भी देता है। बजाज आलियांज हेल्थ गार्ड कई नई चीज और व्यापक नीतियों के साथ बजाज आलियांज हेल्थ गार्ड कुछ अच्छी उपचार सुविधाएं भी देता है। बजाज आलियांज की ओर से पेश की गई सुविधाओं में अस्पताल में भर्ती के खिलाफ कवरेज जिसमें ... Read More »

पीपीएफ अकाउंट को देश का कोई भी नागरिक खोल सकता है, इसे बैंक और पोस्ट ऑफिस में खोला जा सकता है

देश के निजी क्षेत्र के बैंकों में तीसरा सबसे बड़ा बैंक एक्सिस बैंक पीपीएफ की सुविधा भी देता है, जिसमें कोई भी व्यक्ति निवेश पर 1.5 लाख रुपये तक के छूट का दावा कर सकता है। इस खबर में जानिए एक्सिस बैंक के पीपीएफ सुविधा के बारे में। एक्सिस बैंक पीपीएफ योग्यता: सभी नागरिक पीपीएफ खाता खोल सकते हैं। हालांकि, एक व्यक्ति को अपने नाम पर केवल एक ही खाता खोलने की अनुमति है। लेकिन इसमें जॉइंट अकाउंट खोलने की इजाजत नहीं है। ब्याज दर: एक्सिस बैंक के पीपीएफ में आपको 8 फीसद की दर से ब्याज मिलता है। टैक्स लाभ: इसमें टैक्स ‘ईईई’ कैटेगरी के अंतर्गत आता है। इसका मतलब यह है कि एक व्यक्ति निवेश के समय टैक्स कटौती और मिले हुए ब्याज पर दावा कर सकता है और मैच्योरिटी के समय निकाली गई राशि कर-मुक्त होती है। पीपीएफ जमा: एक व्यक्ति पीपीएफ में न्यूनतम 500 रुपये और अधिकतम 1.5 लाख रुपये से शुरुआत कर सकता है। 1.5 लाख रुपये से अधिक की एक्सिस बैंक पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) में जमा की गई राशि पर न तो PPF योजना के तहत ब्याज ... Read More »

आज के कारोबार में सोना 310 रुपये महंगा होकर 34,310 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर पर बंद हुआ है

शुक्रवार को सोने की कीमतों में बड़ा उछाल देखने को मिला है। आज के कारोबार में सोना 310 रुपये महंगा होकर 34,310 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर पर बंद हुआ है। ऑल इंडिया सर्राफा एसोसिएशन के मुताबिक मजबूत वैश्विक रुख के साथ ही स्थानीय ज्वैलर्स की ओर से बढ़ी मांग के कारण सोने की कीमतों में इजाफा देखने को मिला है। सोने की ही तर्ज पर चांदी की कीमतों में बड़ा उछाल देखने को मिला है। आज के कारोबार में चांदी 170 रुपये के उछाल के साथ 40,820 रुपये प्रति किलोग्राम केक स्तर पर बंद हुई है। चांदी की कीमतों में इस तेजी की वजह औद्योगिक इकाईयों और सिक्का निर्माताओं की ओर से तेज उठान रही है। बुलियन ट्रेडर्स का कहना है कि घरेलू मार्केट के सेंटिमेंट्स में तेजी देखने को मिली है क्योंकि स्थानीय ज्वैलर्स एवं रिटेलर्स की ओर से बढ़ी मांग के कारण और सोने की वैश्विक मजबूती के कारण कीमतों में इजाफा देखने को मिला है। वैश्विक स्तर पर सोना 0.14 फीसद के उछाल के साथ 1,315.20 डॉलर प्रति औंस के स्तर पर और चांदी 0.10 ... Read More »

हफ्ते के आखिरी कारोबारी सत्र में भी भारतीय शेयर बाजार ने कमजोर शुरुआत की है

 लगातार सातवें कारोबारी सत्र में शेयर बाजार गिरावट के साथ बंद हुए हैं। दिन का कारोबार खत्म होने पर सेंसेक्स 67 अंकों की गिरावट के साथ 35,808 पर और निफ्टी 21 अंकों की गिरावट के साथ 10,724 पर कारोबार कर बंद हुआ है। निफ्टी 50 में शुमार 50 शेयर्स में से 18 हरे और 32 लाल निशान में कारोबार कर बंद हुए हैं। इंडेक्स की बात करें तो निफ्टी का मिडकैप 0.82 फीसद और स्मॉलकैप 0.82 फीसद की गिरावट के साथ कारोबार कर बंद हुआ है। सेक्टोरियल इंडेक्स का हाल: दिन का कारोबार खत्म होने पर निफ्टी ऑटो 1.10 फीसद की गिरावट, निफ्टी फाइनेंस सर्विस 0.80 फीसद की गिरावट, निफ्टी एफएमसीजी 0.48 फीसद की गिरावट, निफ्टी आईटी 0.29 फीसद की गिरावट, निफ्टी मेटल 2.07 फीसद की गिरावट, निफ्टी फार्मा 3.11 फीसद की गिरावट और निफ्टी रियालिटी 0.25 फीसद की गिरावट के साथ कारोबार कर बंद हुए हैं। टॉप गेनर-टॉप लूजर: निफ्टी 50 की अगर बात करें तो आज के कारोबार में बीपीसीएल 3.83 फीसद की तेजी, एनटीपीसी 3.05 फीसद की तेजी, गेल 2.94 फीसद की तेजी, पावरग्रिड 2.77 फीसद की तेजी और इन्फ्राटेल ... Read More »

YES बैंक ने पिछले महीने ही डॉयचे बैंक के इंडिया चीफ रवनीत सिंग हिल को नया मैनेजिंग डायरेक्टर और CEO नियुक्त किया

 भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) की तरफ से फंड डायवर्जन और प्रॉविजनिंग के मामले में क्लीन चिट मिलने के बाद यस बैंक के शेयरों में जबरदस्त उछाल आया है। बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) में गुरुवार की ट्रेडिंग के दौरान बैंक का शेयर करीब 30 फीसद तक उछल गया। स्टॉक एक्सचेंज को दी गई जानकारी में बैंक ने बताया है कि उसे आरबीआई की तरफ से वित्त वर्ष 2018 के लिए एसेसमेंट रिपोर्ट मिली है, जिसमें किसी तरह की गड़बड़ी का जिक्र नहीं है। रिपोर्ट में कहा गया है प्रॉविजनिंग के दौरान किसी तरह की गड़बड़ी नहीं पाई गई। गौरतलब है कि चालू वित्त वर्ष की शुरुआत से लेकर अब तक बैंक के शेयर में करीब 35 फीसद से अधिक की गिरावट आई है, जबकि इसी दौरान बेंचमार्क इंडेक्स में 9 फीसद से अधिक का उछाल आया है। वहीं बैंकिंग इंडेक्स में करीब 10 फीसद से अधिक की तेजी आई है। यस बैंक ने पिछले महीने ही डॉयचे बैंक के इंडिया चीफ रवनीत सिंग हिल को नया मैनेजिंग डायरेक्टर और सीईओ नियुक्त किया है। आरबीआई की क्लीन चिट के बाद ब्रोकरेज कंपनियों ... Read More »

गौरतलब है कि जनवरी में खुदरा महंगाई दर (CPI) घटकर 2.05 फीसद हो चुकी है, जो जून 2017 के बाद सबसे कम है

 महंगाई में गिरावट का सिलसिला जारी है। खुदरा महंगाई के पिछले 19 महीनों के निचले स्तर पर पहुंचने के बाद जनवरी महीने में थोक महंगाई (WPI) के मोर्चे पर भी राहत मिली है। दिसंबर के 3.8 फीसद के मुकाबले जनवरी में थोक महंगाई दर कम होकर 2.76 फीसद हो गई, जो पिछले 10 महीनों का सबसे निचला स्तर है। गौरतलब है कि जनवरी में खुदरा महंगाई दर (CPI) घटकर 2.05 फीसद हो चुकी है, जो जून 2017 के बाद सबसे कम है। महंगाई में आई गिरावट की वजह खाने पीने के सामान की कीमतों में आई कमी और ईंधन के दाम में मामूली बढ़ोतरी का होना है। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) की अगली समीक्षा बैठक अप्रैल महीने में होनी हैं, और माना जा रहा है कि इस बैठक में केंद्रीय बैंक एक बार फिर से ब्याज दरों में कटौती की राहत दे सकता है। महंगाई के नियंत्रण में होने की वजह से आरबीआई ने अप्रत्याशित रूप से रेपो रेट में 25 आधार अंकों की कटौती की घोषणा करते हुए इसे 6.50 फीसद से घटाकर 6.25 फीसद कर दिया है। गवर्नर ... Read More »

बुधवार के कारोबार में भी सोने की कीमतों में गिरावट देखने को मिली है

बुधवार के कारोबार में भी सोने की कीमतों में गिरावट देखने को मिली है। आज के कारोबार में सोना 30 रुपये सस्ता होकर 34,050 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर पर बंद हुआ। सोने की कीमतों में इस गिरावट की वजह स्थानीय ज्वैलर्स की ओर से सुस्त मांग के चलते देखने को मिली है जबकि वैश्विक स्तर पर सोना मजबूत हुआ है। सोने की ही तरह चांदी की कीमतों में भी गिरावट देखने को मिली है। आज के कारोबार में चांदी 200 रुपये टूटकर 40,800 रुपये प्रति किलोग्राम के स्तर पर आ गई है। चांदी की कीमतों में इस गिरावट की वजह औद्योगिक इकाईयों और सिक्का निर्माताओं की ओर से सुस्त उठान के चलते देखने को मिली है। बाजार विशेषज्ञों का कहना है कि सोने की कीमतों में गिरावट की वजह स्थानीय ज्वैलर्स के साथ-साथ रिटेलर्स की ओर से सुस्त मांग रही है। हालांकि मजबूत वैश्विक संकेतों ने सोने की गिरावट को थामने का काम किया है। वैश्विक स्तर पर न्यूयॉर्क में सोना 0.13 फीसद की गिरावट के साथ 1,313.10 डॉलर प्रति औंस रहा है क्योंकि डॉलर कई सप्ताह के ... Read More »

संसद के बजट सत्र के आखिरी दिन सभी पार्टियों में सहमति बनी कि अंतरिम बजट को मंजूरी दी जाए

संसद ने बुधवार को मोदी सरकार के छठे और आखिरी बजट को मंजूरी दे दी। इस बजट में ऐसे लोगों को कर में छूट दी गई है जिनकी सालाना कमाई 5 लाख रुपये तक है। साथ ही इस बजट में छोटे किसानों को 6,000 रुपये सालाना की सहायता के साथ ही असंगठित क्षेत्र के मजदूरों के लिए पेंशन का इंतजाम भी किया गया है। लोकसभा ने विनियोग विधेयकों (एप्रोप्रिएशन बिल) को पारित कर दिया है जिससे सरकार को तब तक के लिए कुछ रकम खर्च करने का अधिकार मिल गया है जब तक कि अगली सरकार 2019-20 के लिए पूर्ण बजट प्रस्तुत नहीं कर देती है। साथ ही बहस खत्म होने के बाद वित्त विधेयक को भी मंजूरी मिल चुकी है। बुधवार को बजट सत्र का आखिरी दिन रहा। 13 दिन तक चले बजट सत्र में काफी हंगामा हुआ क्योंकि विपत्री पार्टियों ने राफेल डील से लेकर सिटिजनशिप बिल तक खूब हंगामा कर सदन की कार्यवाही को बाधित रखा। बुधवार को सत्र के आखिरी दिन सभी पार्टियों में अंतरिम बजट को मंजूरी देने पर सहमति बनी। वहीं राष्ट्रपति के अभिभाषण ... Read More »

Study Mass Comm