Monday , 21 October 2019
खास खबर
Home >> कुछ हट के

कुछ हट के

यहां एक व्यक्ति ने 200 लोगों को बनाया एड्स का शिकार, 25 साल की सजा

कंबोडिया के सुप्रीम कोर्ट ने बिना लाइसेंस वाले एक मेडिकल चिकित्सक की 25 साल की जेल की सजा देने के निचली अदालत के फैसले को बरकरार रखा है। मालूम हो कि मेडिकल चिकित्सक की वजह से 200 से अधिक ग्रामीण एचआईवी से संक्रमित हो गए थे। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की शनिवार की रिपोर्ट के अनुसार, कई मरीजों के रक्त परीक्षण के बाद उनके एचआईवी से संक्रमित पाए जाने के बाद चिकित्सक येम क्रीन (60) को साल 2014 में बट्टामबांग प्रांत से गिरफ्तार किया गया था। उस पर एक ही सीरिंज का कई बार दूसरे लोगों पर प्रयोग करने से एचआईवी वायरस संक्रमित करने का आरोप लगा था। दिसंबर 2015 में बट्टामबांग प्रांत कोर्ट ने येम को मामले में दोषी पाया और उसे 25 साल की सजा सुनाई। इसके साथ ही कोर्ट ने उसे शिकायत दर्ज कराने वाले 100 से अधिक पीड़ितों को 500-3000 डॉलर तक मुआवजा देने का भी आदेश दिया था। सितंबर 2017 में अपील कोर्ट ने बट्टामबांग प्रांत कोर्ट के फैसले को बरकरार रखा। शुक्रवार को सजा सुनाते वक्त सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीश नील नोल ने कहा, “सुप्रीम ... Read More »

VIDEO : पानी में CHILL कर रहा शख्स, तभी आई शार्क और…

हादसे से भरे कई वीडियो सामने आते रहते हैं जिसे देखकर सभी हैरान रह जाते हैं. अभी हाल ही में एक और वीडियो सामने आया है जिसे हम आपको दिखाने जा रहे हैं. ऐसा ही एक वीडियो सामने आया है जिसमें एक शख्स पानी के अंदर था और अचानक से एक शार्क आ गई. बताया जा रहा है ये हादसा होने से बच गया है लेकिन इसका वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है. जानकारी दे दें, ऑस्ट्रेलिया (Australia) के न्यू साउथ वेल्स (New South Wales) में बड़ा हादसा होने से बच गया. एक ड्रोन ने पानी में आराम कर रहे शख्स की जान शार्क से बचाई. यानि अगर ये नहीं होता तो शख्स की जान भी जा सकती थी. बता दें, पिछले गुरुवार को ये ड्रोन वीडियो सोशल मीडिया पर अपलोड किया गया था. वीडियो में देखा जा सकता है कि सर्फर पानी में आराम कर रहा था और उसी वक्त पीछे से शार्क आ गई. वहीं खबर के अनुसार, उस वक्त क्रिस्टोफर जॉयस ड्रोन से शार्क को फुटेज ले रहे थे तभी उन्होंने देखा कि एक ... Read More »

रनवे पर दौड़ने लगे बाप बेटे और हो गया कुछ ऐसा..

कई बार आप किसी बात में ऐसे गुम हो जाते हैं कि आपको आस पास की चीज़ों का ध्यान ही नहीं रहता. ऐसा ही एयरपोर्ट के बार में एक बाप और एक बेटा शराब पीने में इतने मशगूल हो गए कि उन्हें फ्लाइट के लिए अनाउंसमेंट सुनाई नहीं दी. जब तक उन्हें कुछ समझ में आता तब तो बहुत देर हो गई थी. कुछ ऐसा ही गया कि दोनों को सामान लेकर रनवे पर दौड़ने लगे. चलिए आपको भी बता देते हैं इसका क्या मटर है. दरअसल, ये मामला इटली के कागलिअरी के एयरपोर्ट का है. दोनों ब्रितानी नागरिक लंदन जाने वाले थे. दोनों easyJet की फ्लाइट से उड़ान भरने वाले थे. easyJet ने भी घटना की पुष्टि की है. स्थानीय अधिकारियों ने बताया कि बोर्डिंग गेट पर देर से पहुंचने के कारण इन्हें एंट्री नहीं मिली तो इन्होंने इमरजेंसी गेट खोल दिया. हालाँकि दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया. वहीं स्थानीय पुलिस ने बाप-बेटे की हरकत को बेवकूफी बताया है. पुलिस ने बताया कि किसी और जगह पर ऐसा करने पर इन लोगों पर गोली भी चलाई जा सकती ... Read More »

सेहत के लिए चाय फायदेमंद: शोधकर्ता

चाय पीने का एक नया फायदा सामने आया है। शोधकर्ताओं ने दावा किया है कि नियमित तौर पर चाय पीने वालों के मस्तिष्क की संरचना बेहतर होती है। इसका संबंध स्मृति संबंधी स्वस्थ कार्यक्षमता से पाया गया है। सिंगापुर की नेशनल यूनिवर्सिटी के असिस्टेंट प्रोफेसर फेंग लेई के अनुसार, ‘हमारे नतीजों से चाय पीने का मस्तिष्क की संरचना पर सकारात्मक प्रभाव का पहला प्रमाण मिला है। यह भी जाहिर हुआ है कि नियमित चाय पीने का मस्तिष्क की सरंचना में उम्र संबंधी गिरावट के खिलाफ सुरक्षात्मक प्रभाव भी पड़ता है।’ यह निष्कर्ष 60 साल की उम्र के 36 लोगों की सेहत, जीवनशैली और मानसिक स्वास्थ्य के आंकड़ों के विश्लेषण के आधार पर निकाला गया है। पूर्व के अध्ययनों में शोधकर्ता यह साबित कर चुके हैं कि लोगों की सेहत के लिए चाय फायदेमंद है। इसका मूड पर सकारात्मक असर पड़ता है और हृदय रोग से रोकथाम भी होती है। Read More »

गायों को गोद लेने की नई व्यवस्था शुरू करने जा रही: कमलनाथ सरकार

मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार गायों को गोद लेने की नई व्यवस्था शुरू करने जा रही है. इसके तहत एनआरआई और कंपनी के बाद अब सामान्य व्यक्ति भी गौशाला की गायों को 15 दिन से लेकर जीवनभर के लिए गोद ले सकते हैं. प्रदेश सरकार की इस योजना का नाम ‘प्रोजेक्ट गौशाला’ है. इस व्यवस्था के तहत एक गाय को जीवनभर के लिए गोद लेने पर तीन लाख रुपए खर्च करने होंगे वहीं, एक साल के लिए गोद लेने की कीमत 21 हजार रुपए होगी. एक महीने के लिए गाय को गोद लेने के लिए 2100 और 15 दिन के लिए 1100 रुपए खर्च करने होंगे. अधिकारियों के अनुसार इस योजना के तहत एनआरआई से लेकर सामान्य व्यक्ति तक वेबसाइट या मोबाइल एप के जरिए पैसे डोनेट कर सकेंगे. हालांकि, वेबसाइट और मोबाइल एप के बनाने की प्रक्रिया अभी चल ही रही है और इसने अभी काम करना शुरू नहीं किया है. Read More »

डफली वाले के साथ होटल में खाना खाते हुए नजर आए: तेज प्रताप यादव

लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे और बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव अपने अनोखे अंदाज के लिए जाने जाते हैं. कभी वो भगवान कृष्ण का रूप रख मुरली बजाने लगते हैं तो कभी शंकर का रूप रख लेते हैं. ताजे वाकये में वे एक डफली वाले के साथ होटल में खाना खाते हुए नजर आए हैं. दरअसल, शुक्रवार को तेज प्रताप पटना के बोरिंग रोड इलाके से गुजर रहे थे. इसी दौरान उन्हें रास्ते में एक डफली वाला डफली बजाते दिख गया. तेज प्रताप ने तत्काल अपना काफिला रोक लिया और उसके पास गए. इसके बाद तेज प्रताप उसे पास के ही एक होटल लेकर पहुंच गए. होटल में तेज प्रताप ने उस डफली वाले के साथ बैठकर रोल खाया. इस दौरान डफली वाले ने डफली भी बजाई. तेज प्रताप को डफली वाले के साथ बैठा देख वहां आसपास भीड़ भी जमा हो गई. Read More »

खिलाड़ी का जीवन की चुनौतियों को चित करना भी उनका लक्ष्य

कुछ खिलाड़ी सिर्फ पदक जीतने के लिए नहीं लड़ते, बल्कि जीवन की चुनौतियों को चित करना भी उनका लक्ष्य होता है। उनकी भिड़ंत भूख और गरीबी से होती है। दुनिया के इस सबसे कठिनतम प्रतिद्वंद्वी को चारों खाने चित करने की जिद उन्हें हर दिन चैंपियन साबित करती है और जीवन का यह असल खेल खेलते हुए जब वे मैदानी प्रतिद्वंद्वी के सामने उतरते हैं, तब जीत उन्हें झुककर सलाम ठोंकती है। जीतने की ऐसी जिद, चुनौतियों को चित करने का ऐसा माद्दा और इस स्तर की ‘फिटनेस’ अमेरिका, चीन और जापान के खिलाड़ियों में शायद ही होती हो। यही वजह है कि थोड़ा-सा प्रोत्साहन मिलते ही हिमा दास दुनिया को अचंभित कर देती हैं। छोटा-सा ढाबा चलाने वाले पिता की बेटी कोमलिका बारी, ऑटो ड्राइवर की बिटिया दीपिका कुमारी… हर लक्ष्य को भेद देती हैं। इसी दिशा में बढ़ रही हैं छत्तीसगढ़ के जगदलपुर की एथलीट सुभद्रा बघेल और बिहार के कैमूर की अनु गुप्ता। अभाव में भी खेल के प्रति इनका जुनून जिद की हद तक कायम है। बस इन्हें थोड़े सहयोग की जरूरत है। Read More »

दुनियाभर में माने जाते हैं अजीब ड्राइविंग रूल्स, नहीं सुने होंगे कभी

दुनिया में हर देश के अपने कुछ ट्रैफिक रूल्स बने हुए हैं. इन्हें हर देश में माना भी जाता है. ट्रैफिक नियों में अगर नहीं माना जाता है तो आपको इसके लिए सजा भी मिलती है. नियम मानने के आधार पर और उनकी पूर्ण जानकारी होने पर ही किसी व्यक्ति को ड्राइविंग लाईसेंस मिलता हैं. पर आपको बता दें, दुनिया के विभिन्न देशो में ड्राइविंग को लेकर बड़े ही विचित्र नियम है. इन रूल्स को जानने के बाद आप भी हैरान रह जायेंगे. जानते हैं अलग-अलग देशों के अजीब रूल्स. * न्यू जर्सी : इंडिया में आए दिन रास्ते पर लोगों को ट्रैफिक पुलिस से उलझते देखा जा सकता है. पर अगर आप न्यू जर्सी में हैं, तो भूल से भी ऐसा करने की ना सोचें. इस देश में ट्रैफिक पुलिस को घूरकर देखना या उनसे बहस करना इलीगल है. दरअसल, इस देश में पब्लिकली गुस्सा दिखाना मना है. अगर आप ऐसा करते पकड़े गए तो आपको सजा हो सकती है. * साइप्रस : साइप्रस में आप कार में कुछ भी नहीं खा पी सकते है यहाँ तक कि आप पानी भी ... Read More »

रात में क्यों नहीं किया जाता पोस्टमार्टम, क्या है दिन में करने की वजह ?

अक्सर ऐसे कई सवाल मन में आते रहते हैं, जिनका जवाब मिलना थोड़ा मुश्किल सा होता है. लेकिन नामुमकिन नहीं. ऐसा ही एक सवाल यह भी है कि आखिर शवों का पोस्टमॉर्टम दिन में ही क्यों किया जाता है, रात में क्यों नहीं? तो आइए जानते हैं इसके बारे में… पहले आप यह जान लीजिए कि आखिर पोस्टमॉर्टम क्यों किया जाता है? दरअसल, बता दें कि पोस्टमॉर्टम एक प्रकार का ऑपरेशन होता है, जिसमें शव का परीक्षण होता है. शव का परीक्षण इसलिए किया जाता है, ताकि व्यक्ति की मौत के सही कारणों की जांच हो सके. बता दें कि पोस्टमॉर्टम के लिए मृतक के सगे-संबंधियों की सहमति अनिवार्य होती है. लेकिन कुछ मामलों में पुलिस अधिकारी भी पोस्टमॉर्टम की इजाजत दे देते हैं, जैसे की हत्या मामले में. व्यक्ति की मौत के बाद छह से 10 घंटे के अंदर ही पोस्टमॉर्टम किया जाता है, ऐसा इसलिए क्योंकि इससे अधिक समय होने के बाद शवों में प्राकृतिक परिवर्तन, जैसे कि ऐंठन होने लगती है और शवों का पोस्टमॉर्टम करने का समय सूर्योदय से लेकर सूर्यास्त तक के बीच का ही ... Read More »

आरआईएल ने तिरुमला भगवान वेंकटेश्वर मंदिर में 1.11 करोड़ रुपये का दान दिया

देश के सबसे अमीर शख्स मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) ने तिरुमला के पास स्थित भगवान वेंकटेश्वर के मंदिर में रविवार को 1.11 करोड़ रुपये का दान दिया. कंपनी के एक प्रतिनिधि ने तिरुमला तिरुपति देवस्थानम्स के विशेष अधिकारी एवी धर्मा रेड्डी को डिमांड ड्राफ्ट सौंपा. इस बात की जानकारी एक अधिकारी ने दी. कंपनी ने मंदिर प्रशासन से अनुरोध किया है कि इस धन का इस्तेमाल मंदिर की ओर से श्रद्धालुओं के लिए चलाए जाने वाली नि:शुल्क भोजन योजना में खर्च करें. मंदिर के एक अधिकारी ने बताया कि भोजन योजना से रोजाना करीब एक लाख लोग लाभान्वित होते हैं. Read More »

Study Mass Comm