Home >> News in Pictures

News in Pictures

एक समय में एक काम करो, और ऐसा करते समय अपनी पूरी आत्मा उसमें डाल दो और बाकी सब कुछ भूल जाओ: स्वामी विवेकानंद

विवेकानंद बचपन से ही तीव्र बुद्धि के धनी थे। इनके घर का नाम नरेंद्र दत्त था। स्वामी विवेकानंद का जन्म 12 जनवरी 1863 को कोलकाता में हुआ था। 1897 में मानवता की सेवा के लिए स्वामी विवेकानंद ने रामकृष्ण मिशन की स्थापना की थी। इसका नाम विवेकानंद ने अपने गुरु रामकृष्ण परमहंस के नाम पर रखा था। अमेरिका के शिकागों में धर्म सभा में इन्होंने धाराप्रवाह भाषण दिया था। जिसकी वजह से ये अंर्तराष्ट्रीय सुर्खियों में रहे। अपने जोशपूर्ण और बेबाक भाषणों के कारण विवेकानंद युवाओं में काफी लोकप्रिय थे। लेकिन 39 साल की कम उम्र में ही इनका निधन हो गया था। 4 जुलाई 1992 को स्वामी विवेकानंद की मृत्यु हो गई थी। इनके दिए गए संदेश आज भी युवाओं के लिए प्रेरणा का स्तोत्र हैं। इनकी कह गए संदेश युवाओं में एक नया जोश भर देते हैं। हर साल 4 जुलाई को स्वामी विवेकानंद स्मृति दिवस के रूप में मनाया जाता है। आइए जानते हैं स्वामी विवेकानंद के अनमोल विचार जो जीवन में नई ऊर्जी भरने का काम करते हैं…. पवित्रता, धैर्य और उद्यम-ये तीनों गुण मेैं एक साथ चाहता हूं। जब …

Read More »

गौतम बुद्ध के विचार भविष्य में उजाला, साथ चलने का विचार और भाईचारा है: PM मोदी

संस्कृति मंत्रालय की देखरेख में आज यानी शनिवार को अंतरराष्ट्रीय बौद्ध परिसंघ (IBC), धर्म चक्र दिवस के रूप में आषाढ़ पूर्णिमा मनाएगा. आज ही के दिन महात्मा बुद्ध ने अपने पहले पांच शिष्यों को प्रथम उपदेश दिया था. इसी मौके पर पूरी दुनिया के बौद्ध हर साल इसे धर्म चक्र प्रवर्तन दिवस के रूप में मनाते हैं. वहीं हिंदू धर्म में आज का दिन गुरु के प्रति सम्‍मान व्‍यक्‍त करने का होता है और इसे‘गुरु पूर्णिमा’ के रूप में भी मनाया जाता है. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने सुबह 9 बजे के करीब राष्ट्रपति भवन में धर्म चक्र दिवस का उद्घाटन किया. जिसके बाद केंद्रीय मंत्री किरेन रिजिजू ने आयोजित धर्म चक्र दिवस समारोह को संबोधित किया. बाद में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो के जरिए देशवासियों को संबोधित करते हुए कहा कि बौद्ध धर्म लोगों को आदर करना सिखाता है. लोगों के लिए आदर करना, गरीबों के लिए आदर रखना, महिलाओं को आदर देना. शांति और अहिंसा का आदर करना. इसलिए बुद्ध द्वारा दी गई सीख आज भी प्रसांगिक है. उन्होंने कहा कि गौतम बुद्ध ने सारनाथ में दिए अपने …

Read More »

कश्मीर और लद्दाख क्षेत्र के बीच की जोजिला सुरंग पर जल्द काम शुरू होगा: केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी

कश्मीर और लद्दाख क्षेत्र के बीच पूरे साल संपर्क के लिए रणनीतिक तौर से महत्वपूर्ण जोजिला सुरंग पर जल्द काम शुरू होगा। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि यह सुरंग परियोजना पिछले छह साल से अटकी हुई है। श्रीनगर-करगिल-लेह राष्ट्रीय राजमार्ग पर करीब 11,578 फुट की ऊंचाई पर स्थित जोजिला दर्रा की रणनीतिक अहमियत है। सर्दियों में बंद हो जाने से कश्मीर से लद्दाख कट जाता है। सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री गडकरी ने कहा कि हम लद्दाख को जोड़ने के लिए करीब 7,500 से 8,000 करोड़ रुपये की लागत वाली जोजिला सुरंग पर भी काम शुरू कर रहे हैं। सूक्ष्म, लघु एवं मझोले उद्यम मंत्रालय के जम्मू-कश्मीर के युवाओं के लिए रोजगार अवसर, बाधाएं और समस्याओं पर आयोजित वीडियो कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि नया एक्सप्रेस राजमार्ग का निर्माण दिल्ली को अमृतसर और कटड़ा से जोड़ने के लिए किया जा रहा है। इससे दिल्ली और अमृतसर के बीच 110 से 120 किलोमीटर प्रति घंटा की औसत गति से यात्रा समय चार घंटे कम हो जाएगा। एमएसएमई मंत्रालय की भी जिम्मेदारी संभाल रहे गडकरी ने कहा कि खादी एवं …

Read More »

बड़ी खबर: बॉर्डर पर जारी तनाव के बीच PM मोदी अचानक लेह पहुंचे CDS बिपिन रावत भी साथ

चीन से बॉर्डर पर जारी तनाव के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अचानक लेह पहुंचे हैं. शुक्रवार सुबह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यहां पहुंचे और जवानों से मुलाकात की. इससे पहले सिर्फ चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत को इस दौरे के लिए आना था. मई से ही चीन के साथ बॉर्डर पर तनाव जारी है और बॉर्डर पर लगातार गंभीर स्थिति बनी हुई है. इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का यहां पर पहुंचना हर किसी को चौंकाता है. इससे पहले शुक्रवार को सिर्फ रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को लेह जाना था, लेकिन गुरुवार को उनके कार्यक्रम में बदलाव कर दिया गया. फिर तय हुआ था कि सिर्फ बिपिन रावत ही लेह जाएंगे. शुक्रवार को सीडीएस बिपिन रावत को यहां पर नॉर्थ कमांड और 14 कॉर्प्स के अधिकारियों के साथ बैठक करनी थी. इस दौरान चीन के साथ मौजूदा तनाव, बॉर्डर की स्थिति का जायजा लेना था. इससे पहले सेना प्रमुख एमएम नरवणे भी लेह गए थे, जहां पर उन्होंने गलवान घाटी में घायल हुए जवानों से मुलाकात की थी. इसके अलावा सेना प्रमुख ने ईस्टर्न लद्दाख के फॉरवर्ड पोस्ट पर जाकर …

Read More »

आज चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ CDS बिपिन रावत लेह के दौरे पर जाएंगे

भारत और चीन के बीच मई से बॉर्डर पर शुरू हुआ तनाव अभी थमा नहीं है. इस बीच आज चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (CDS) बिपिन रावत लेह के दौरे पर जाएंगे. यहां बिपिन रावत स्थानीय अधिकारियों से मुलाकात करेंगे, जमीनी हालात को जानेंगे और घायल जवानों से मुलाकात भी करेंगे. पहले इस दौरे पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को भी जाना था, लेकिन उनका दौरा अभी के लिए टाल दिया गया है. बिपिन रावत आज जब लेह पहुंचेंगे, तो वो नॉर्थ आर्मी कमांड, 14 कॉर्प्स के अधिकारियों के साथ बैठक करेंगे. इस दौरान बीते दिनों के डेवेलपमेंट, बॉर्डर पर चीनी सेना की तैनाती, भारतीय सेना की तैयारियों को लेकर मंथन करेंगे. बता दें कि इससे पहले सेना प्रमुख एम.एम. नरवणे ने भी लद्दाख के फॉरवर्ड पोस्ट का दौरा किया था. आपको बता दें कि मई की शुरुआत में दोनों देशों की सेनाओं के बीच शुरू हुआ स्टैंड ऑफ अभी भी थमा नहीं है. दोनों देशों की सेनाएं वक्त-वक्त पर बातचीत कर रही हैं, जिसमें पीछे हटने को लेकर मंथन किया जा रहा है. लेकिन अभी तक किसी भी तरह कोई …

Read More »

हर भारतीय चाहता है कि चीन को कड़ा सबक सिखाया जाए: केंद्रीय मंत्री आरके सिंह

भारत की ओर से लगातार चीन को आर्थिक झटके दिए जा रहे हैं. सड़क निर्माण और डिजिटल क्षेत्र में झटके के बाद अब बारी बिजली क्षेत्र की है. केंद्रीय मंत्री आरके सिंह ने कहा है कि पावर प्रोजेक्ट के लिए चीन से जो भी इम्पोर्ट होता था, अब सरकार उसे रेगुलेट कर सकती है. इस क्षेत्र में कस्टम ड्यूटी को बढ़ाया जा सकता है.  इंटरव्यू में आरके सिंह ने कहा कि सरकार की ओर से कस्टम ड्यूटी को बढ़ाया जाएगा, ताकि आसानी से होने वाले आयात को सख्त किया जाए. चीनी कंपनियों को रोकने के लिए कस्टम के साथ-साथ नियमों में सख्ती बरती जाएगी. केंद्रीय मंत्री ने कहा कि भारत इतनी ताकत रखता है कि हम आर्थिक लेवल के साथ-साथ युद्ध क्षेत्र में भी चीन को धकेल सके. आज पूरी दुनिया भारत के साथ है, इसमें भारत के मजबूत नेतृत्व का हाथ है. चीनी निवेश थमने के बाद भारत में पड़ने वाले असर को लेकर उन्होंने कहा कि हम अपने देश में आपूर्ति को अपने दम पर पूरा कर सकते हैं. पहले सामान इसलिए मंगाया जाता था, क्योंकि चीन सस्ते …

Read More »

केंद्र सरकार की हाईलेवल कमेटी ने चीनी ऐप्स पर अंतरिम रोक लगाई

59 चीनी ऐप्स को बैन करने के फैसले को केंद्र सरकार की हाईलेवल कमेटी ने भी सही माना है. इस कमेटी में गृहमंत्रालय, कानून मंत्रालय, इलेक्ट्रानिक एवं आईटी मंत्रालय, सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के अधिकारियों और प्रतिनिधियों के अलावा CERT-In (Computer Emergency Response Team) के प्रतिनिधि शामिल हैं. 59 चीनी ऐप्स को बैन करने के फैसले पर केंद्र सरकार की समिति ने भी मुहर लगा दी है. इन ऐप्स की डाटा साझा करने की कार्यप्रणाली के मद्देनजर आईटी एवं इलेक्ट्रॉनिक सचिव ने अपने इमरजेंसी अधिकार का प्रयोग करते हुए बैन लगाने का फैसला किया था. बुधवार को सरकार की समिति ने भी अपनी बैठक में इस फैसले को सही माना है. आपको बता दें कि चीनी ऐप्स पर अंतरिम रोक लगाई गई है. अब अंतिम फैसला लेने से पहले इन चीनी ऐप्स के प्रतिनिधियों को समिति के सामने अपनी बात रखने का एक मौका मिलेगा. जानकारी के मुताबिक, एक हफ्ते के अंदर इन कंपनियों के प्रतिनिधि समिति के सामने अपना पक्ष रख सकते हैं. गौरतलब है कि सोमवार देर रात को भारत सरकार ने 59 चीनी ऐप्स पर प्रतिबंध लगा …

Read More »

हमने योग और आयुर्वेद से लोगों को स्वस्थ होने की शिक्षा दी लेकिन फिर भी हम पर सवाल उठाए जा रहे: योग गुरु बाबा रामदेव

कोरोनिल दवा पर सफाई देने के लिए योग गुरु बाबा रामदेव ने आज हरिद्वार में एक प्रेस कांफ्रेंस का आयोजन किया है। जिसमें वह अपना पक्ष सामने रख रहे हैं। पतंजलि योगपीठ में बाबा रामदेव और आचार्य बालकृष्ण पत्रकार वार्ता कर रहे हैं। इस दौरान योगगुरू बाबा रामदेव ने कहा कि कोरोना पीड़ितों से हमदर्दी रखी जानी चाहिए। हमने योग और आयुर्वेद से लोगों को स्वस्थ होने की शिक्षा दी है, लेकिन फिर भी सवाल उठाए जा रहे हैं। आयुष मंत्रालय ने कहा है कि पतंजलि ने कोविड के क्षेत्र में अच्छी पहल की है। इससे सभी विरोधियों के मंसूबों पर पानी फिर गया। बाबा रामदेव ने कहा है कि कोविड मैनेजमेंट पर हमने अभी तक जो कार्य किए गए, वो आगे भी जारी रहेंगे। कोरोनिल के लिए गिलोय, अश्वगंधा तुलसी की सुनिश्चित मात्रा लेकर कोरोनिल तैयार की गई है। दालचीनी और अन्य से श्वासारी वटी तैयार की गई है। मॉर्डन मेडिकल साइंस के तहत ये काम किया बाबा रामदेव ने कहा कि मॉर्डन मेडिकल साइंस के तहत ये काम किया गया है। इनके अलग-अलग लाइसेंस हैं, इनका संयुक्त रूप से …

Read More »

दुखद: हरिद्वार के कई अखाड़ों से जुड़े सुधीर कुमार मक्कड़ उर्फ गोल्डन बाबा का निधन

पूर्वी दिल्ली स्थित गांधी नगर के रहने वाले सुधीर कुमार मक्कड़ उर्फ गोल्डन बाबा का निधन हो गया है. लंबी बीमार के बाद गोल्डन बाबा ने मंगलवार देर रात आखिरी सांस ली. उनका इलाज एम्स में चल रहा था. गोल्डन बाबा हरिद्वार के कई अखाड़ों से जुड़े रहे हैं और उनके खिलाफ कई आपराधिक मामले दर्ज थे. गोल्डन बाबा का असली नाम सुधीर कुमार मक्कड़ है. वह मूल रूप से गाजियाबाद के रहने वाले थे. बताया जाता है कि संन्यासी बनने से पहले सुधीर कुमार मक्कड़ दिल्ली में गारमेंट्स का कारोबार करते थे. अपने पापों का प्रायश्चित करने के लिए सुधीर कुमार मक्कड़ गोल्डन बाबा बन गए. गांधी नगर के अशोक गली में गोल्डन बाबा का आश्रम है. सुधीर कुमार मक्कड़ उर्फ गोल्डन बाबा को 1972 से ही सोना पहनना पसंद था. बताया जाता है कि वह सोने को अपना ईष्ट देवता मानते थे. बाबा हमेशा कई किलो सोना पहने रहते हैं. बाबा की दसों उंगलियों में सोने की अंगूठी, बाजुबंद, सोना का लॉकेट है. बाबा की सुरक्षा में हमेशा 25-30 गार्ड तैनात रहते थे. गोल्डन बाबा पूर्वी दिल्ली के …

Read More »

कोरोना वायरस के टीकाकरण के लिए बड़े पैमाने पर विस्तृत योजना तत्काल की जानी चाहिए: PM मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस के टीके को लेकर की जा रही तैयारियों की समीक्षा के लिए एक उच्च-स्तरीय बैठक की अध्यक्षता की। पीएम मोदी ने अधिकारियों को समय पर टीकाकरण सुनिश्चित करने के लिए विभिन्न प्रौद्योगिकी उपकरणों का मूल्यांकन करने का निर्देश दिया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यह भी निर्देश दिया कि इस तरह के बड़े पैमाने पर टीकाकरण के लिए विस्तृत योजना तत्काल की जानी चाहिए। बैठक में भारतीय और वैश्विक टीका विकास प्रयासों की वर्तमान स्थिति की भी समीक्षा की गई। प्रधानमंत्री ने कोरोना के खिलाफ वैश्विक टीकाकरण प्रयासों में सक्षम भूमिका निभाने के लिए भारत की जिम्मेदारी और प्रतिबद्धता पर भी प्रकाश डाला।

Read More »