Sunday , 25 August 2019
खास खबर
Home >> Politics

Politics

बीजेपी के लिए अगस्त का महीना काफी खराब रहा

पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का आज एम्स में 66 साल की उम्र में निधन हो गया. वह काफी लंबे समय से बीमार थे और एम्स में उनका इलाज चल रहा था. बीजेपी के लिए अगस्त का महीना काफी खराब रहा है. पार्टी के अनेक नेताओं का निधन अगस्त के महीने में हुआ है. जिन नेताओं का अगस्त महीने में निधन हुआ है उनमें- पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी, पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और अब पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली हैं. इन तीनों ही नेताओं ने बीजेपी को बनाने में काफी बड़ा योगदान दिया है. अटल बिहारी वाजपेयी दो सीटों वाली बीजेपी को केन्द्र की सत्त में लाए. उन्होंने अपनी राजनीतिक कुशलता से उत्तर से लेकर दक्षिण के राज्यों में बीजेपी का विस्तार किया. सुषमा स्वराज से लेकर अरुण जेटली ने भी पार्टी के विस्तार में अहम भूमिका निभाई. अरुण जेटली को पार्टी का प्रमुख रणनीतिकार माना जाता था. विधानसभा चुनाव से लेकर लोकसभा चुनाव में वो पार्टी की रणनीति बनाते थे. Read More »

नरेंद्र मोदी सरकार के पहले कार्यकाल के सबसे बड़े संकटमोचक अरुण जेटली: RIP

बीजेपी नेता अरुण जेटली ने आज दोपहर 12.07 बजे एम्स में आखिरी सांस ली. गंभीर बीमारी से जूझ रहे जेटली 9 अगस्त से एम्स में ही भर्ती थे. नरेंद्र मोदी सरकार के पहले कार्यकाल के सबसे बड़े संकटमोचक अरुण जेटली स्वास्थ्य कारणों से इस बार चुनाव से न सिर्फ दूर रहे बल्कि सरकार में किसी भी तरह का कोई पद नहीं लिया. हालांकि बीमारी के बावजूद वह लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान सक्रिय रहे. सोशल मीडिया के जरिए विपक्ष पर लगातार हमला करते रहे. नरेंद्र मोदी के पहले कार्यकाल में अरुण जेटली वित्त मंत्री रहे. इस दौरान उन्होंने रक्षा मंत्रालय का कार्यभार भी अस्थाई रूप से संभाला. यह अलग बात है कि जेटली अमृतसर से लोकसभा चुनाव हार गए थे, लेकिन उनकी योग्यता को देखते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने उन्हें अपने मंत्रिमंडल में कैबिनेट मंत्री का दर्जा दिया. मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में उनकी छवि दूसरे नंबर के नेता के तौर पर थी. Read More »

सीबीआई और ईडी बीजेपी के सेल के रूप में काम कर रही: तेजस्वी यादव

 पी चिदंबरम की आईएनएक्स मीडिया केस में हुई गिरफ्तारी के मुद्दे पर आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने केंद्र की भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) पर एक बार फिर निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय जैसी जांच एजेंसियां बीजेपी के सेल के रूप में काम कर रही हैं. तेजस्वी यादव ने आरोप लगाया कि नरेंद्र मोदी सरकार राजनीतिक बदले की दुर्भावना से प्रेरित होकर विपक्ष के नेताओं को टारगेट कर रही है और उनके खिलाफ कार्रवाई की जा रही है. हालांकि, तेजस्वी ने ये भी कहा कि उन्हें इस बात की उम्मीद थी कि पी चिदंबरम के खिलाफ निष्पक्ष जांच की जाएगी. तेजस्वी ने आगे कहा कि न्यायालय में सभी को भरोसा होना चाहिए. Read More »

मेरे खिलाफ देवेगौड़ा के सभी आरोप झूठे: पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया

कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया और पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा के बीच सियासी नुराकुश्ती तेज हो गई है. शुक्रवार को सिद्धारमैया ने कहा कि देवेगौड़ा ने मेरे खिलाफ एक अखबार को बयान दिया है. मैं चुप रहना चाहता था, लेकिन आरोप गंभीर थे. अगर मैं चुप रहा तो लोग इसे गलत तरीके से ले सकते हैं. मेरे खिलाफ देवेगौड़ा के सभी आरोप झूठे हैं. मेरे कारण कुमारस्वामी सरकार नहीं गिरी है. सिद्धारमैया ने कहा कि मेरे खिलाफ देवेगौड़ा के सभी आरोप झूठे हैं. उन्होंने क्या कहा है? उन्होंने कहा कि गठबंधन का पतन सिद्धारमैया की वजह से हुआ. सिद्धारमैया कुमारस्वामी के सीएम के रूप में खुश नहीं थे. लेकिन बताना चाहता हूं कि मैं नहीं चाहता था कि भाजपा सत्ता में आए. उसके लिए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद और अन्य ने जेडीएस को समर्थन देने का फैसला किया. मैं एक शब्द भी कहे बिना वापस सहमत हो गया. मैंने पूरे 14 महीने सहयोग किया. Read More »

नरेंद्र मोदी सरकार पर परोक्ष रूप से निशाना साधा: सोनिया गांधी

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने नरेंद्र मोदी सरकार पर परोक्ष रूप से निशाना साधा और कहा कि राजीव गांधी को विशाल बहुमत मिला था लेकिन उन्होंने इस ताकत का इस्तेमाल लोगों को डराने-धमकाने के लिए कभी नहीं किया. पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के योगदान को याद करते हुए सोनिया ने कहा, ‘राजीव गांधी मजबूत, सुरक्षित और आत्मनिर्भर भारत बनाने का संकल्प रखते थे.’ कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, ” उन्होंने प्रधानमंत्री के तौर पर देश के कोने कोने तक जाकर यह संदेश दिया कि भारत की विविधता का उत्सव मनाकर ही देश को मजबूत बना सकते हैं.” Read More »

‘दीदी के बोलो’ कैंपेन बीजेपी की ‘चाय पर चर्चा’ मुहिम की नकल: दिलीप घोष

पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव सरगर्मियां अभी से शुरू हो गई हैं. राजनीतिक दलों की ओर से कैंपेनिंग की भी तैयारी चल रही है. बीजेपी और तृणमूल कांग्रेस की ओर से एक-दूसरे पर अपने पार्टी कैंपेन की नकल करने का आरोप-प्रत्यारोप लगाया जा रहा है. इस बीच भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के पश्चिम बंगाल इकाई अध्यक्ष दिलीप घोष ने गुरुवार को दावा किया कि तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) की ओर से संचालित ‘दीदी के बोलो’ (दीदी से कहो) कैंपेन बीजेपी के  ‘चाय पर चर्चा’ मुहिम की नकल है. प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा कि टीएमसी ने प्रशांत किशोर की मदद से यह नकली फॉर्मूला तैयार किया है. माना जा रहा है कि दिलीप घोष ने यह प्रतिक्रिया हाल में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की सड़क किनारे चाय बनाकर लोगों को पिलाने की वायरल तस्वीरों पर दिया है. Read More »

केंद्र सरकार जल्द ही पाकिस्तान में जाने वाले पानी पर रोक लगा देगी

केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने कहा है कि केंद्र सरकार जल्द ही पाकिस्तान में जाने वाले पानी पर रोक लगा देगी. उन्होंने कहा कि सरकार ने फैसला किया है कि सिंधु जल संधि के अलावा जितना पानी पाकिस्तान में जाता था उसकी सप्लाई रोकी जाएगी. उन्होंने कहा, ‘भारत और पाकिस्तान के विभाजन के समय जो सिंधु जल संधि हुई थी. उसके अतिरिक्त यानी उसे छेड़े बिना भी बहुत सारा भारत की नदियों के हिस्से का पानी पाकिस्तान में बहकर जाता है, उसे रोका जाएगा.’ शेखावत ने कहा, ‘हम अपने हक का पानी रोककर किसानों के लिए, अपने देश में बिजली पैदा करने के लिए और अपने देश के नागरिकों के पीने के लिए उपयोग करें. मुझे लगता है कि इसमें किसी को कोई आपत्ति नहीं होनी चाहिए. साथ ही इस पर किसी तरह का सवाल भी खड़ा नहीं होना चाहिए.’ Read More »

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने नई दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की

झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने मंगलवार को नई दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की। माना जा रहा है कि इस मुलाकात में दास ने प्रधानमंत्री को सरकार की ओर से चलाई जा रहीं विकास योजनाओं एवं राज्य में चल रही केंद्र सरकार की योजनाओं की प्रगति के बारे में जानकारी दी। मुलाकात के बाद अपने ट्वीट में प्रधानमंत्री का धन्यवाद करते हुए झारखंड के मुख्यमंत्री ने लिखा कि वे हमेशा झारखंड की जरूरतों का ख्याल रखते हैं। दास ने ट्वीट किया कि ‘हम सभी के प्रेरणास्रोत प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से आज दिल्ली में मुलाकात की। प्रधानमंत्री जी के मार्गदर्शन में हम सवा तीन करोड़ झारखंड वासियों की समृद्धि के लिए दिन रात जुटे हैं।’ Read More »

राजनीतिक समीकरण बनाने में जुटी हुई मायावती: उत्तर प्रदेश

लोकसभा चुनाव में मिली करारी हार के बाद बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की अध्यक्ष मायावती उपचुनाव को लेकर राजनीतिक समीकरण बनाने में जुटी हुई हैं. उत्तर प्रदेश की 13 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव के लिए मायावती अपने कैडर और जमीन से जुड़े नेताओं को चुनावी मैदान में उतारने की रणनीति पर काम कर रही हैं. समाजवादी पार्टी से नाता तोड़ने के बाद ही मायावती ने उत्तर प्रदेश के उपचुनाव की तैयारी शुरू कर दी थी. बसपा प्रदेश की उपचुनाव के लिए जल्दी ही प्रत्याशियों का ऐलान कर सकती है. बसपा के जोनल इंचार्जों ने अपने-अपने इलाके की रिक्त हुई विधानसभा सीटों के लिए प्रत्याशियों का पैनल पार्टी नेतृत्व को भेज दिया है. इस बार बसपा ने अपने पुराने वफादार और कैडर के नेताओं को मैदान में उतारने का फैसला किया है. Read More »

भाजपा के बाद मायावती का अब RSS पर हमला, बोलीं-आरक्षण विरोधी मानसिकता त्याग दें भागवत

भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ लगातार आग उगलने वाली बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती ने अब आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत पर शब्दों के बाण छोड़े हैं। मायावती ने आरक्षण का प्रकरण उठाने पर राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) के मुखिया मोहद भागवत निशाना साधा है। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) प्रमुख मोहन भागवत ने एक बार फिर आरक्षण का मुद्दा उठाया है। भागवत ने सद्भावपूर्ण माहौल में इस पर पक्ष और विपक्ष के लोगों से बैठकर बात करने की सलाह दी। उनकी यह सलाह बसपा मुखिया मायावती को बेहद खराब लगी है। मायावती ने कहा कि आरक्षण मानवतावादी संवैधानिक व्यवस्था है। जिससे छेड़छाड़ अनुचित और अन्याय है। मायावती ने कहा कि मोहन भागवत अब अपनी मानसिकता बदलें। बसपा मुखिया ने आरएसएस पर निशाना साधते हुए ट्वीट किया। मायावती ने लिखा है कि आरएसएस का एससी/एसटी/ओबीसी आरक्षण के सम्बंध में यह कहना कि इसपर खुले दिल से बहस होनी चाहिए, संदेह की घातक स्थिति पैदा करता है, जिसकी कोई जरूरत नहीं है। देश में आरक्षण मानवतावादी संवैधानिक व्यवस्था है जिससे छेड़छाड़ अनुचित व अन्याय है। संघ अपनी आरक्षण-विरोधी मानसिकता त्याग दे ... Read More »

Study Mass Comm