Sunday , 16 December 2018
खास खबर
Home >> Politics

Politics

उपेंद्र कुशवाह ने एनडीए छोड़ा, विधायकों ने कहा हम एनडीए के साथ ही रहेंगे

हाल ही में भाजपा के गठबंधन एनडीए से अलग हुए उपेंद्र कुशवाहा की राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) में दो फाड़ हो गई है. कुशवाहा एनडीए से अलग होने की घोषणा कर चुके हैं लेकिन उनकी पार्टी के विधायक एनडीए छोड़ने को राजी नहीं है, पार्टी के दोनों विधायक और एक एमएलसी ने कहा है कि कुशवाहा को जाना है तो वे जा सकता हैं लेकिन हम लोग एनडीए के साथ हैं. कुशवाहा की राष्ट्रीय लोक समता पार्टी दो भागों में विभाजित होती दिख रही है. पटना में एक संवाददाता सम्मेलन कर रालोसपा के दोनों विधायक सुधांशु शेखर और ललन पासवान और एमएलसी संजीव श्याम सिंह ने कहा है कि उपेंद्र कुशवाहा सिर्फ अपने बारे में सोच रहे हैं, वे कहीं भी जाएं किन्तु हम एनडीए के साथ थे और एनडीए के साथ ही रहेंगे.  पार्टी के दोनों विधायक और विधानपार्षद ने पटना में प्रेस वार्ता में कहा कि रालोसपा कुशवाहा की व्यक्तिगत संपत्ति नहीं है. पार्टी पर असली हक उनका है और वो एनडीए के साथ थे और रहेंगे. ऐसे में रालोसपा को एनडीए से अलग बिलकुल ना समझा ... Read More »

सपा अध्यक्ष की कांग्रेस को हिदायत, अगर फैसले पर आपत्ति हो तो अदालत में जाएं

 समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने राफेल सौदे पर आए शीर्ष अदालत के निर्णय पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि जब जेपीसी की मांग उठाई गई थी तो सुप्रीम कोर्ट का उल्लेख नहीं किया गया था. पर अब जब अदालत ने फैसला दे दिया है तो अगर किसी को अदालत के फैसले पर आपत्ति है तो उसे फिर से अदालत का दरवाजा खटखटाना चाहिए. उल्लेखनीय है कि राफेल लड़ाकू विमानों की खरीद प्रक्रिया को उच्चतम न्यायालय ने अपने फैसले में क्लीन चिट दे दी है. अदालत का कहना है कि सौदे की प्रक्रिया का पूरी तरह से पालन किया गया है. इस फैसले को केंद्र की मोदी सरकार के लिए क्लीन चिट माना जा रहा है. हालांकि, निर्णय वाले दिन ही कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा था कि इस सौदे में उद्योगपति अनिल अंबानी की कंपनी को 30 हजार करोड़ रुपये का लाभ पहुंचाया गया है. उन्होंने एक बार फिर सरकार से इस मामले पर जेपीसी द्वारा जांच कराने की मांग की, साथ ही आगे भी ये मुद्दा उठाने की बात कही है. आपको बता ... Read More »

राहुल गांधी ने कहा है कि मध्‍य प्रदेश के मुख्‍यमंत्री नाम जल्‍द तय हो जाएगा……

 मध्‍य प्रदेश विधानसभा चुनाव नतीजे (madhya pradesh elections result) के बाद प्रदेश के मुख्‍यमंत्री के नाम पर फैसला अभी नहीं हो पाया है. सूत्रों के मुताबिक बुधवार को विधायक दल की बैठक में मुख्यमंत्री के नाम के लिए कमलनाथ का नाम सर्वसम्‍मति से स्‍वीकार कर लिया गया है. हालांकि विधायक दल ने राज्‍य के मुख्‍यमंत्री के नाम का तय करने का फैसला कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी पर छोड़ दिया है. इसके लिए राहुल गांधी गुरुवार को मध्‍य प्रदेश के नेताओं के साथ अहम बैठक दिल्‍ली में करेंगे. इसमें कमलनाथ और ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया समेत कई नेता शामिल होंगे.  इस बैठक में मंत्रिमंडल के नामों को लेकर भी चर्चा होने की संभावना है. इसी बैठक में मुख्‍यमंत्री का नाम तय होने के बाद शपथ ग्रहण का समय भी तय हो जाएगा. बैठक के बाद कमलनाथ और ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया दोपहर में ही भोपाल लौट जाएंगे. मध्‍य प्रदेश के कुछ नेताओं ने राहुल गांधी से बैठक से पहले कांग्रेस नेता अहमद पटेल से भी मुलाकात की है. जल्‍द तय होगा मुख्‍यमंत्री : राहुलबैठक से पहले राहुल गांधी ने कहा है कि मध्‍य प्रदेश के मुख्‍यमंत्री नाम जल्‍‍‍द तय हो जाएगा. अभी ... Read More »

 चुनावों के सबसे भाग्यशाली उम्मीदवार, सिर्फ 3 वोट से हासिल की जीत?

चुनाव में वोटिंग के दौरान ही नहीं, बल्कि काउंटिंग में प्रत्येक राउंड के बाद उम्मीदवारों की सांस अटकने लगती है. कहते हैं कि जो जीता वही सिकंदर, यानी जीत तो जीत होती है, चाहें कितने वोट से भी क्यों न मिली हो. कम अंतर से जीत मिले, तो इसे अच्छी किस्मत ही कहा जाएगा. इस लिहाज से मिजोरम की तुईवाल सीट से मिजो नेशनल फ्रंट के उम्मीदवार ललछनदामा राल्टे पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव में सबसे भाग्यशाली उम्मीदवार रहे हैं. ललछनदामा ने कांग्रेस पार्टी के उम्मीदवार के मुकाबले सिर्फ तीन वोट से जीत हासिल की है. वे इन चुनावों में सबसे कम अंतर से जीत हासिल करने वाले उम्मीवार हैं. मिजोरम में आइजोल नार्थ- 3 से मिजो नेशनल फ्रंट के सी लालमुआनपुईया ने 434 वोट से जीत हासिल की है, जबकि आइजोल साउथ- 2 से निर्दलीय उम्मीदवार देंगघमिंगथानगा 179 वोट से जीत हासिल करने में कामयाब रहे. मिजोरम में मिजो नेशनल फ्रंट (एमएनएफ) को जीत हासिल हुई है. राज्य की 40 सीटों में एमएनएफ 26 सीटों पर जीत हासिल हुई है. यहां सत्ताधारी कांग्रेस पार्टी को करारी हार का सामना ... Read More »

चुनावी दौर में 72 दिनों के अंदर हुए कुल 66 लाख से ज्यादा लोगों ने ट्वीट किया

 सोशल नेटवर्किंग साइट ट्विटर पर लोग जितने एक्टिव होते हैं, उतना वे किसी और प्लेटफॉर्म पर नजर नहीं आते. यह एक ऐसा मंच माना जाता है, जहां यूजर्स आसानी से अपनी बात रखते हैं और इसका रिएक्शन भी उन्हें तुरंत मिल जाता है. यही वजह रही कि हाल ही में देश के पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव के दौरान ट्विटर पर 72 दिनों के अंदर लगभग 66 लाख से ज्यादा ट्विट किए गए. मंगलवार को इन चुनावों के परिणाम आने के बाद ट्विटर इंडिया ने इन आंकड़ों को जारी किया. ट्वीट्स की जारी आंकड़ों में सिर्फ चुनावी रण की ही गूंज रही. मंगलवार को आए चुनाव के नतीजेगौरतलब है हाल ही में मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़, मिजोरम और तेलंगाना में हुए विधानसभा चुनाव के नतीजे मंगलवार को आए, जिसमें मध्‍य प्रदेश में काउंटिंग के 24 घंटे बीतने के बावजूद अभी अंतिम परिणाम नहीं आ सके हैं. यहां कांग्रेस और बीजेपी के बीच जबरदस्‍त कांटे की टक्कर देखने को मिल रही है. चुनाव आयोग के सुबह साढ़े बजे के आंकड़ों के मुताबिक कांग्रेस 113 सीटें जीत चुकी है और 1 पर आगे चल रही ... Read More »

बीजेपी की हार पर शिवसेना का तंज- जनता ने दिया ‘भाजपामुक्त’ का संदेश

 राजस्थान और छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की जीत और मध्य प्रदेश में बहुमत के करीब सीटें आने पर एनडीए की घटक दल शिवसेना ने तंज कसा है. शिवसेना के मुखपत्र सामनाने संपादकीय में कहा है मध्यप्रदेश में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कमलनाथ, ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ राहुल गांधी ने पूरे राज्य का दौरा किया और भाजपा का रथ रोक दिया. राजस्थान में कांग्रेस की सरकार बनने से कोई नहीं रोक सकता. ऐसा माहौल था कि वहां कांग्रेस को करीब 140 सीटें मिलेंगी, मगर मुख्यमंत्री पद के लिए अंदरूनी उठा-पटक और गुटबाजी ने कांग्रेस का आंकड़ा कम कर दिया. अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच के संघर्ष से राजस्थान में कांग्रेस 100 सीटों पर थम गई, पर उस दल की वहां बहुमतवाली सरकार बननेवाली है. इस तरह हिंदीभाषी क्षेत्र के तीनों राज्य भाजपा के हाथ से निकल चुके हैं. तेलंगाना में फिर से चंद्रशेखर राव विजयी हुए हैं. वहां पर भाजपा कांग्रेस से नीचे है. मिजोरम में स्थानीय दल ने बाजी मारी है. इसका अर्थ स्पष्ट है कि पीएम मोदी तथा अमित शाह ने ‘कांग्रेसमुक्त भारत’ का जो सपना देखा था, वह भाजपा शासित राज्य में ही धूल ... Read More »

कांग्रेस-बसपा का गठबंधन होता तो नतीजे कुछ और होते, क्या है 2019 

हिंदी पट्टी के तीन राज्यों के नतीजे सामने हैं. कांग्रेस इन राज्यों में सरकार बनाने जा रही है. यहां बीएसपी का प्रदर्शन मिलाजुला रहा है. राजस्थान में बीएसपी की सीटें तीन से बढ़कर छह हो गईं, जबकि मध्य प्रदेश में पार्टी सात से घटकर दो के आंकड़े पर आ गई. ऐसे में बड़ा सवाल ये है कि अगर चुनाव से पहले कांग्रेस और बीएसपी का गठबंधन होता तो आज नतीजों की सूरत क्या होती. मध्य प्रदेश में कांग्रेस को 41% वोट मिले हैं, जबकि बीएसपी के वोट 4.9% हैं. अगर ये दोनों वोट मिला दिए हैं, जो राज्य में ये गठबंधन एक तरफा जीत दर्ज कर सकता था. ऐसी ही सूरत राजस्थान में बनती, जहां बीएसपी को 4% वोट मिले. हालांकि ये पूरे विश्वास के साथ नहीं कहा जा सकता कि गठबंधन की सूरत में दोनों पार्टियों के वोट एक दूसरे को किस हद तक ट्रांसफर होते. गौरतलब है कि दोनों पार्टियों के बीच गठबंधन की बात चल रही थी, लेकिन सीटों की सहमति नहीं बन पाने के चलते गठबंधन नहीं हो सका. छत्तीसगढ़ में चूकी बीएसपीबीएसपी का अनुमान छत्तीसगढ़ ... Read More »

जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में सोमवार को उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने 67वीं अखिल भारतीय पुलिस एथलेटिक्स चैंपियनशिप का उद्घाटन किया

जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में सोमवार को उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने 67वीं अखिल भारतीय पुलिस एथलेटिक्स चैंपियनशिप का उद्घाटन किया। इस मौक पर उनके साथ केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआइएसएफ) के महानिदेशक राजेश रंजन, मुक्केबाज विजेंद्र सिंह व डिस्कस थ्रो खिलाड़ी शक्ति सिंह अतिथि के तौर पर उपस्थित थे। उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने कहा कि खेल व्यक्ति के जीवन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। खेल व्यक्ति को स्वस्थ रखते हैं। एक स्वस्थ राष्ट्र ही समृद्ध राष्ट्र है। स्वस्थ शरीर में ही स्वस्थ दिमाग का निवास होता है। नियमित व्यायाम व खेलकूद कार्य क्षमता को बढ़ाते हैं। इस प्रकार की प्रतिस्पर्धाएं न केवल पूरे देश के बलों को एक साथ लाती हैं बल्कि एक मंच प्रदान कर आपसी सौहार्द्र को भी बढ़ाती हैं। उन्होंने कहा कि यह खुशी की बात है कि सुरक्षाबलों में खेल संस्कृति को जीवित रखा गया है। खुद को स्वस्थ रखने के लिए मैं आज भी रोजाना सुबह बैडमिंटन खेलता हूं। राजेश रंजन ने कहा कि खेल पुलिस प्रशिक्षण पाठ्यक्रम का अभिन्न अंग है। यह टीम में साथ कार्य करने व नेतृत्व क्षमता को बढ़ाने में मदद करता ... Read More »

Election Results: भाजपा सांसद ने- राम मन्दिर मुद्दे को बताई हार की वजह

 पांचों राज्यों की मतगणना जारी है। मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान, मिजोरम और तेलंगाना के नतीजों पर सबकी निगाहें टिकी हैं। शाम तक साफ हो जाएगा कि कौन से राज्य में किसकी सरकार बनने जा रही है। नतीजे आने से पहले बयानों का दौर शुरू हो गया है। जानिए कौन क्या कह रहा है।  भाजपा सांसद ने बताई हार की वजह भाजपा सांसद संजय काकड़े ने कहा, ‘मैं जानता था कि हम राजस्थान और छत्तीसगढ़ हार जाएंगे लेकिन मध्यप्रदेश के रुझानों से हैरान हूं। मुझे लगता है कि हम 2014 में पीएम मोदी द्वारा लिए विकास के संकल्प को भूल गए और राम मंदिर, स्टैच्यू के अलावा नाम बदलने पर फोकस हो गया।’ राजस्थान में कांग्रेस जीत की ओर बढ़ती दिख रही है। इसके बाद यहां कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अशोक गहलोत ने कहा कि राजस्थान में चुनाव परिणाम आने के बाद पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी तय करेंगे कि यहां सीएम कौन होगा। साथ ही उन्होंने कहा कि राजस्थान में कांग्रेस बहुमत से सरकार बनाएगी लेकिन अगर अन्य दल सरकार कांग्रेस में आना चाहें तो उनका स्वागत है।  ये परिणाम नहीं शुरुआती रुझान ... Read More »

दिल्‍ली की पटियाला हाउस कोर्ट की विशेष अदालत ने सुनंदा पुष्कर मौत मामले में गुरुवार को सुनवाई की

दिल्‍ली की पटियाला हाउस कोर्ट की विशेष अदालत ने सुनंदा पुष्कर मौत मामले में गुरुवार को सुनवाई की। यह सुनवाई भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी की याचिका पर हुई।कोर्ट ने याचिका की मांग को  आगेे बढ़ा दिया है। बता देें कि स्वामी ने कोर्ट में पुलिस की विजिलेंस जांच रिपोर्ट को प्रस्तुत करने की मांग की थी। कोर्ट ने इससे पहले सुनवाई करते हुए 10 दिसंबर की तारीख तय की थी। इससे पहले नवंबर को सुनवाई टल गई थी। शशि थरूर के वकील के अदालत में मौजूद नहीं होने के चलते सुनवाई टालनी पड़ी थी, इसके बाद सुनवाई के लिए छह दिसंबर की तारीख तय हुई थी। बता दें कि 3 नवंबर को हुई पिछली सुनवाई में विशेष अदालत ने सुनंदा पुष्कर मौत मामले से जुड़े दस्तावेजों की प्रति आरोपी पक्ष को देने का आदेश दिया था। आरोपी पक्ष की ओर से कहा गया था कि पुलिस ने जो दस्तावेज पहले दिए थे, उनमें से कुछ की हालत ठीक नहीं है। इस कारण दस्तावेज फिर से दिए जाएं। जवाब में पुलिस की ओर से कहा गया कि जल्द ही दूसरी प्रति मुहैया करा दी जाएगी। ... Read More »

Study Mass Comm