Home >> U.P. >> कानपुर

कानपुर

विकास ने काली कमाई से खड़ा किया था साम्राज्य, एसआइटी जल्द पूरा ब्यौरा ईडी को सौंपेगी

उत्तर प्रदेश में कानपुर के बहुचर्चित बिकरू कांड के मुख्य आरोपी विकास दुबे और उसके गिरोह के सदस्यों ने काली कमाई से करीब 150 करोड़ रुपये की संपत्ति जुटाई थी, जिनमें कई व्यवसायिक व आवासीय भूखंड भी हैं। ये तो वो चल-अचल संपत्तियां हैं, जिसके साक्ष्य अपर मुख्य सचिव संजय भूसरेड्डी की अध्यक्षता में गठित एसआइटी ने अपनी जांच के दौरान जुटाए हैं। विकास दुबे, उसके खजांची जय वाजपेयी और गिरोह के अन्य सदस्यों के नाम कई कीमती बेनामी संपत्तियां भी हैं। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि प्रशासन और पुलिस अधिकारियों से सांठगाठ के बूते विकास दुबे व उसके गिरोह ने किस तरह काली कमाई से अपना साम्राज्य खड़ा किया था। एसआइटी ने बीते दिनों शासन को अपनी जांच रिपोर्ट सौंपी थी, जिसमें विकास दुबे गिरोह की 150 करोड़ की संपत्तियों का भी जिक्र है और एसआइटी ने इसकी ईडी से जांच कराने की सिफारिश भी की थी। हालांकि प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) पहले से ही इस मामले में मनी लांड्रिंग का केस दर्ज कर जांच कर रहा है। शासन की सिफारिश पर ईडी ने सितंबर 2020 में कुख्यात …

Read More »

सहालग से ठीक पहले सोने व चांदी के गिर रहे भाव ने कारोबारियों को किया परेशान

सहालग से ठीक पहले सोने व चांदी के गिर रहे भाव ने कारोबारियों को परेशान कर रहा है। कारोबारियों को उम्मीद थी कि दीपावली के बाद भाव बढ़ सकते हैं लेकिन स्थिति विपरीत है। दीपावली के बाद 10 दिन में सोना 1,200 रुपये प्रति 10 ग्राम व चांदी 3,000 रुपये किलो गिर चुकी है। इसके पीछे कारोबारी काफी कुछ कोरोना का हाथ मान रहे हैं। दीपावली के बाद छह दिन में गिरे भाव  यूं तो लाॅकडाउन के बाद से ही सोने के भाव बहुत तेजी से बढ़े थे और एक समय सोना 57,900 रुपये और चांदी 72 हजार रुपये तक पहुंच चुकी थीं। इसके बाद से दोनों धातुओं का भाव स्थिर है। हालांकि बीच-बीच मेें भावों में कुछ बड़े उतार चढ़ाव देखने को मिल जाते हैं। कारोबारियों की सोच थी कि दीपावली के बाद सोने व चांदी के भाव में तेजी आएगी क्योंकि सहालग कम दिनों की ही सही लेकिन लोग जेवर पर काफी खर्च कर रहे थे। इसके पीछे का एक तर्क यह भी था कि शादियों में पार्टियां छोटी हो गई हैं, इसलिए अब जेवर पर खर्च ज्यादा …

Read More »

बांदा में आयकर विभाग की बड़ी कार्रवाई, आज तक की सबसे बड़ी अघोषित ज्वेलरी पकड़े जाने का मामला

आयकर विभाग ने बांदा और मथुरा में 17.5 करोड़ रुपये की अघोषित ज्वेलरी पकड़ी है। इसमें 34 किलो सोना और 200 किलो चांदी के जेवर हैं। पिछले 2 वर्षों में सबसे बड़ी अघोषित संपत्ति पकड़े जाने के मामलों में से एक है। बांदा के इतिहास में यह आज तक की सबसे बड़ी अघोषित ज्वेलरी पकड़े जाने का मामला है। बांदा में पुलिस ने शनिवार रात एक होटल में छापा मारकर मथुरा के सराफा कारोबारी के दो कर्मचारियों को हिरासत में लिया था, जिनके पास से 14 किलो सोने के जेवर बरामद हुए थे। इनकी कीमत आयकर विभाग ने करीब 6.50 करोड़ रुपये मानी थी। इसके बाद आयकर विभाग ने बांदा और मथुरा में सर्वे शुरू कर दिए थे। सर्वे में और भी अघोषित ज्वैलरी मिलने पर आयकर विभाग ने इस पूरी कार्रवाई को छापे में तब्दील कर दिया। इसके बाद बांदा में सात और मथुरा में एक स्थान पर कार्रवाई शुरू हो गई‌, मंगलवार देर रात तक चली कार्रवाई में आयकर विभाग को बांदा में सात स्थानों पर 20 किलो सोने की अघोषित ज्वैलरी का स्टॉक मिला‌। इसके साथ ही …

Read More »

घाटमपुर में युवती ने अधिवक्ता और उसके साथियों पर बंधक बनाकर सामूहिक दुष्कर्म करने का लगाया आरोप

प्रदेश में हाथरस कांड की आग अभी ठंडी भी नहीं पड़ी थी कि घाटमपुर में एक नया दुष्कर्म का मामला सामने आया है। क्षेत्र के एक गांव निवासी युवती ने स्थानीय कचहरी के अधिवक्ता व उसके साथियों के खिलाफ बंधक बना कर सामूहिक दुष्कर्म किए जाने का मुकदमा दर्ज कराया है। आरोपित अधिवक्ता हिस्ट्रीशीटर अपराधी है।अारोपित राजेंद्र धमाका एक राजनीतिक पार्टी के टिकट से चुनाव लड़ने की भी तैयारी कर रहा था। गांव गिरसी निवासी राजेंद्र धमाका स्थानीय कचहरी में वकालत करता है। रंगदारी से लेकर कचहरी के कई विवादों के चलते गंभीर मुकदमों में धमाका जेल जा चुका है। जिसके चलते पुलिस ने दो वर्ष पूर्व उसकी हिस्ट्रीशीट भी खोली थी। युवती का आरोप है कि अधिवक्ता राजेंद्र धमाका करीब तीन माह पूर्व उसे मोहल्ला अशोकनगर दक्षिणी स्थित आवास पर बंधक बनाकर लाया था। बुधवार सुबह साढ़े आठ बजे धमाका ने मित्र अर्जुन सिंह, पंडित महराज व प्रशांत के साथ मिल कर गाली गलौज व मारपीट कर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। युवती का कहना था कि स्वजनों को झूठे मुकदमों में फंसवाने व उसकी हत्या कराने की धमकी …

Read More »

कानपुर में हकीकत के पर्दे पर उतरी फिल्म खुदा हाफिज, ओमान से लौटकर महिला ने सुनाई जुल्म की दास्तां

हाल ही वेब पर रिलीज हुई अभिनेता विदु्यत जामवाल फिल्म खुदा हाफिज कानुपर में हकीकत के पर्दे पर उतर आई। फिल्म में एक पति अपनी पत्नी को वापस लाने के लिए लड़ाई लड़ता है, ठीक उसी तरह कानपुर में भी एक बेटे ने अपनी मां को ओमान से वापस लाने के लिए संघर्ष किया। इस बेटे की कहानी भी बिल्कुल फिल्म के किरदार समीर चौधरी तो उसकी मां की दर्दनाक दास्तां नरगिस जैसी ही है। उसने विदेश मंत्रालय और राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग से गुहार लगाई तब हरकत में आए भारतीय दूतावास ने महिला को खोजकर वापस भारत भेजने का बंदोबस्त किया है। नौकरी दिलाने के बहाने ओमान भेजी गई बेकनगंज की महिला ने दस महीने उत्पीडऩ सहती रही, मारपीट का शिकार हुई और उसे बच भी दिया गया। इस तरह ओमान पहुंची महिला हीरामन का पुरवा बाबू हम्जा का हाता बेकनगंज में रहने वाली 55 वर्षीय अलीमुन्निसा को ट्रेवल एजेंट ने विजिट वीजा से नौकरी के लिए 23 अक्टूबर 2019 को ओमान भेजा था। उससे यह कहा गया था कि उसे वहां दो छोटे बेटों व एक बूढ़ी औरत के …

Read More »

पुलिस से बचने के लिए वकील की वेशभूषा में अपराधी को सरेंडर कराना पड़ सकता है भारी

पुलिस से बचने के लिए वकील की वेशभूषा बनाकर कोर्ट में सरेंडर करना तो अब आम बात हो गई है। पुलिस से बचने के लिए कचहरी में अपराधी इसी तरह सरेंडर कर रहे हैं, यह अधिवक्ताओं की मदद के बिना नहीं होता है। अब इसपर लगाम लगने के लिए यूपी बार कांउसिल और बार एसोसिएशन ने सख्ती दिखाई है। यूपी बार काउंसिल ने अपराधियों की मदद करने वाले अधिवक्ताओं पर कार्रवाई करने की बात कही। ऐसे मामलों पर यूपी बार काउंसिल शिकायतों के साथ ही स्वत: संज्ञान लेगी। पदाधिकारियों के मुताबिक यह एडवोकेट एक्ट की धारा 35 के तहत प्रोफेशनल मिसकंडक्ट (व्यावसायिक कदाचार) की श्रेणी में आता है, इसलिए ऐसे मामलों में कार्रवाई हो सकती है। मामले, जिनमें वकीलों के पहनवाए में आए अपराधी केस एक : जय कांत बाजपेयी के भाइयों ने कोर्ट में वकीलों की वेशभूषा में सरेंडर किया। ऐसा करने से वह पुलिस की नजरों में धूल झोंकने में कामयाब हो गए। केस दो : ड्रग माफिया बच्चा भी वकीलों की वेशभूषा में सरेंडर के लिए कोर्ट में पहुंचा। पुलिस उसे अरसे से ढूंढ रही थी। उसके भाई …

Read More »

चकेरी के सफीपुर में आॢथक तंगी से परेशान युवक ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

चकेरी के सफीपुर में आॢथक तंगी से परेशान युवक ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। घटना की जानकारी होने पर मकान मालिक ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने जांच पड़ताल की। सफीपुर-1 निवासी 45 वर्षीय राकेश फेरी लगाकर बैग और कपड़ों की चैन रिपेयरिंग का काम करते थे। चचेरे भाई मुकेश ने बताया कि शादी के कुछ दिनों बाद ही उनकी पत्नी छोड़कर चली गई थी। वह 15 साल से लक्ष्मी नारायण मिश्र के मकान में अकेले ही किराए पर रहते थे। वह कई सालों से चर्म रोग से ग्रसित थे। वही लॉकडाउन के बाद से काम नहीं चलने के कारण वह आॢथक रूप से भी परेशान चल रहे थे। मंगलवार रात मकान में रहने वाले लोगों ने उन्हेंं देखा था। बुधवार सुबह रोज की तरह उनका कमरा नहीं खुलने पर मकान मालिक ने खिड़की से झांक कर देखा तो कमरे के अंदर चादर के सहारे पंखे से उनका शव लटक रहा था। इसके बाद उन्होंने पुलिस को सूचना दी। थाना प्रभारी रवि श्रीवास्तव ने बताया कि स्वजनों से पूछताछ करने पर जानकारी हुई है कि युवक ने आॢथक …

Read More »

बिकरू कांड के आरोपितों पर गैंगस्टर के तहत कार्रवाई करने की पुलिस ने की तैयारी

बिकरू कांड के आरोपितों पर रासुका व गैंगस्टर के तहत कार्रवाई करने की पुलिस ने तैयारी की है। वहीं विकास दुबे के खजांची जय बाजपेयी के फरार तीनों भाइयों को न्यायालय ने भगोड़ा घोषित कर दिया है। पुलिस ने तीनों आरोपितों के खिलाफ कुर्की का ऐलान करने के साथ घर के बाहर नोटिस चस्पा कराया है। 23 की हुई गिरफ्तारी, 12 का कोर्ट में सरेंडर पुलिस ने सीओ समेत आठ पुलिस कर्मियों की हत्या के इस मामले में 21 नामजद आरोपितों के साथ प्रकाश में आए 21 आरोपितों पर कार्रवाई की है। कुल 42 आरोपितों में से छह एनकाउंटर में मारे गए हैं। ऐसे में बाकी बचे 36 आरोपितों में एक को छोड़कर सभी जेल में हैं। पुलिस और एसटीएफ ने 23 आरोपितों को सलाखों के पीछे भेजा है, जबकि 12 ने कोर्ट में सरेंडर किया था। आइजी मोहित अग्रवाल ने बताया कि बिकरू कांड में पकड़े गए सभी आरोपितों के खिलाफ गैंगस्टर के साथ एनएसए की भी कार्रवाई की जाएगी। नियमानुसार पहला मुकदमा दर्ज होने के बाद एकत्र की गई संपत्ति गैंगस्टर लगते ही जब्त की जा सकती है। …

Read More »

कानपुर में अबतक 9514 कोराेना संक्रमित हो चुके स्वस्थ, एक्टिव केस 3337

जिले में कोरोना का कहर थम नहीं रहा है। रोजाना नए रिकॉर्ड बन रहे हैं। मंगलवार को कोरोना संक्रमित का आंकड़ा 13 हजार के पार हो गया है। उधर, कोरोना की चपेट में आए छह संक्रमितों ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। उसमें दो महिलाएं व चार पुरुष हैं। जिले में 319 नए संक्रमित सामने आए हैं। शहर के सात कोविड हॉस्पिटल से 70 मरीज स्वस्थ होने पर डिस्चार्ज कर दिए गए, जबकि 246 होम आइसोलेशन पूरा होने पर स्वस्थ हुए। अब जिले में कोरोना पॉजिटिव 13243 हो गए, उसमें से 392 की मौत हो चुकी है, जबकि 9514 स्वस्थ हो चुके हैं। अब एक्टिव केस 3337 बचे हैं। सीएमओ डॉ. अनिल मिश्रा के मुताबिक कोरोना से छह मरीजों की मौत हुई है। कोरोना की चपेट में आकर दम तोडऩे वालों में किदवई नगर निवासी 62 वर्षीय महिला, रामबाग निवासी 38 वर्षीय महिला, बिरहाना रोड निवासी 71 वर्षीय पुरुष, फीलखाना निवासी 68 वर्षीय पुरुष, स्वरूप नगर निवासी 65 वर्षीय पुरुष व चमनगंज निवासी 50 वर्षीय पुरुष हैं। इन्हेंं मधुमेह, हाइपरटेंशन, क्रॉनिक किडनी डिजीज, थायराइड, निमोनिया, एक्यूट रेस्पिरेट्री डिस्ट्रेस सिंड्रोम …

Read More »

जिले में कोरोना पॉजिटिव की संख्या हुई 10993, अबतक 333 लोगों की हो चुकी मौत

जिले में कोरोना का कहर थम नहीं रहा है। सोमवार को नौ संक्रमितों ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। मरने वालों में दो महिलाएं और सात पुरुष हैं। 147 कोरोना पॉजिटिव आए हैं। इसके साथ ही कोरोना ने जिला कारागार में भी दस्तक दे दी है। सोमवार को चार कर्मचारी, दो बंदी रक्षक और 34 बंदी संक्रमित मिले। जिले में कोरोना पॉजिटिव 10993 हो गए हैं, उसमें से 333 की मौत हो चुकी है, जबकि 6474 स्वस्थ हो चुके हैं। अब एक्टिव केस 4186 हो गए हैं। सीएमओ डॉ. अनिल कुमार मिश्रा के मुताबिक कोरोना से नौ मरीजों की मौत हुई है, उसमें दो महिलाएं भी हैं। मंधना निवासी 65 वर्षीय महिला और प्रमोद निवासी 75 वर्षीय महिला हैं, जो हाइपरटेंशन, हाइपोथायरॉइडिज्म और निमोनिया से पीडि़त थीं। इसी तरह कौशलपुरी निवासी 78 वर्षीय पुरुष, लाजपत नगर निवासी 71 वर्षीय पुरुष, माल रोड निवासी 68 वर्षीय पुरुष, रतनलाल नगर निवासी 57 वर्षीय पुरुष, यशोदा नगर निवासी 60 वर्षीय पुरुष, हंसपुरम निवासी 59 वर्षीय पुरुष व लाल बंगला निवासी 29 वर्षीय युवक हैं, जो मधुमेह हाइपरटेंशन किडनी की बीमारी से पीडि़त …

Read More »