Sunday , 16 December 2018
खास खबर
Home >> U.P. >> कानपुर

कानपुर

चिडिय़ाघर में जैव सुरक्षा न होने का खामियाजा भुगत रहे वन्यजीव, हो रहे संक्रमण का शिकार

कानपुर प्राणि उद्यान में जैव सुरक्षा (बायोसिक्योरिटी प्लान) तार-तार हो रही है। इसका खामियाजा वन्यजीवों को उठाना पड़ रहा है, जो संक्रमण का शिकार हो रहे हैं। इन हालात ने चिडिय़ाघर प्रशासन की चिंता बढ़ा दी है, मगर जैव सुरक्षा के नियमों का पालन कराने के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठाए जा सके हैं।  चिडिय़ाघर प्रशासन की नींद कुछ दिनों पहले तब उड़ गई जब यहां पर शेरनी नंदिनी का शावक शंकर बीमार हुआ। स्थानीय स्तर पर हुई जांच में बीमारी का कारण सामने नहीं आया।  भारतीय पशु चिकित्सा अनुसंधान संस्थान (आइवीआरआइ) की टीम ने जब जांच की तो संक्रमण की बात निकली। आइवीआरआइ के वैज्ञानिकों ने जैव सुरक्षा के तरीके पूछे। इनमें कमी पाई गई तो आइवीआरआइ ने निर्देश दिए कि संक्रमण रोकने के लिए बायोसिक्योरिटी प्लान का क्रियान्वयन जमीनी स्तर पर करें। हालांकि, यह अभी मुकम्मल नहीं हो पाया है। फिलहाल दर्शकों के लिए लगे नियमों के बोर्ड पालन की अपील कर रहे हैं। नियमों की अनदेखी से निपटने के कारगर उपाय गायब हैं। ऐसे टूट रहे नियम रोक के बावजूद दर्शक खाने-पीने का सामान अंदर न केवल ... Read More »

ज्यादा बकैती न करो…पढि़ए ऐसे ही कनपुरिया जुमले और शब्द, जिनसे कइयों को मिली शोहरत

शहर के शब्दों में इतना आकर्षण है कि उनकी वजह से छोटे पर्दे से लेकर बॉलीवुड तक कानपुर के मिजाजी शब्दों का ‘भौकाल टाइट’ होता जा रहा है। कई फिल्मों में ‘रंगबाज’ पात्र यहां की बोली बोलते नजर आते हैं। तनु वेड्स मनु, टशन, बुलेट राजा जैसी फिल्मों के डायलॉग आपको याद ही होंगे। आज कई चर्चित कॉमेडियन भी कानपुर के शब्दों के इस्तेमाल से स्टार बन गए हैं। बड़ी रौबीली है कानपुरिया भाषा साहित्यकारों के बीच बहस का मुद्दा है कि कथा, कहानी, उपन्यास में नई हिंदी का इस्तेमाल होना चाहिए या नहीं। ‘नई हिंदी’ का मतलब उस भाषा शैली से है, जो आजकल नए कलमकार इस्तेमाल कर रहे हैं। वह देशज या कहें कि स्थानीय आम बोलचाल के शब्दों को अपने लेखन में स्थान देते हैं। साहित्य में स्थान पाने के लिए शब्दों का यह संघर्ष देश के सभी क्षेत्रों में चल रहा है, लेकिन ‘कनपुरिया भाषा’ उससे अलग खड़ी इतरा रही है। वजह ये है कि यहां की अलहदा और रौबीली भाषा को किसी कलम की दरकार नहीं है। कानपुर के शब्द और उनका अर्थ -कंटाप : कनपटी पर थप्पड़ ... Read More »

बहन की विदाई से पहले उठी भाई की अर्थी, विवाह स्थल से कुछ दूरी पर हुआ हादसा

बहन की भांवरे पडऩे के बाद विदाई की तैयारी चल रही थी। इस बीच विवाह स्थल से घर जाते समय एक भाई हादसे का शिकार हो गया। बहन की विदाई से पहले भाई दुनिया से ही विदा हो गया। ट्रैक्टर ट्राली की चपेट में आकर बाइक सवार दुल्हन के भाई की मौत खबर मिलते ही शादी समारोह में कोहराम मच गया। जानकारी होते ही दुल्हन के लिबाज में विदाई के लिए बैठी बहन बेसुध होकर गिर गई, वहीं परिजनों के करुण क्रंदन से खुशियों के बीच मातम छा गया। मऊदरवाजा थाना क्षेत्र के गांव खारबंदी कुइयां बूट निवासी राकेश सिंह नागर की पुत्री राधा की बरात बुधवार शाम जनपद कासगंज कस्बा गंजडुंडवारा से आई थी। विवाह समारोह शहर कोतवाली क्षेत्र में ठंडी सड़क स्थित नवभारत सभाभवन में आयोजित था। गुरुवार भोर पहर राधा की भांवरों की रस्म दूल्हे योगेश के साथ पूरी की गईं। इसके बाद दुल्हन की विदाई की तैयारी चल रही थी। घर से कुछ सामान लाने के लिए राकेश सिंह का पुत्र सनी (18) बाइक से निकला था। कुछ दूरी पर कृष्णादेवी बालिका इंटर कालेज के निकट ... Read More »

पति से अनबन के बाद चार साल से मायके में रह रही युवती की हत्या

चरखारी के गुढ़ा गांव में बुधवार की सुबह खेतों पर जा रही महिला की किसी धारदार हथियार से हत्या कर दी गई। वारदात के बाद गांव में सनसनी फैल गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव कब्जे में लेकर छानबीन शुरू की। प्राथमिक छानबीन में हत्या का कारण स्पष्ट नहीं हो सका है।  कोतवाली चरखारी के ग्राम गुढ़ा निवासी राम सहोदर विश्वकर्मा की पुत्री अर्चना (35) का विवाह हमीरपुर के राठ थाना क्षेत्र निवासी सिकंदरपुर के सूरज सिंह से हुआ था। पति से अनबन के बाद चार साल से अर्चना मायके ग्राम गुढ़ा में रह रही थीं। अर्चना की मां कन्या प्राथमिक पाठशाला गुढ़ा में रसोइया है। प्रधानाध्यापक ओपी अनुरागी ने बताया कि बीते कुछ समय से रसोइया अपनी जगह पर पुत्री अर्चना को खाना बनाने के लिए भेजती थी।  बुधवार सुबह अर्चना खेत की तरफ जा रही था। रास्ते में किसी ने कुल्हाड़ी जैसे धारदार हथियार से सिर पर पीछे से वार कर हत्या कर दी। बाग के पास चकमार्ग पर खून से लथपथ पड़ा शव देखकर ग्रामीणों में सनसनी फैली गई। जानकारी होते ही लोगों की भीड़ एकत्र ... Read More »

चकेरी पुलिस ने गैर इरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज कर दो आरोपितों को गिरफ्तार किया

चकेरी के श्यामनगर में शादी समारोह में सोमवार की रात गाना बजाने को लेकर हुए विवाद में दो पक्षों के बीच मारपीट हो गई। युवकों ने कुरियर ब्वॉय को पीट पीटकर मार डाला। पुलिस ने मृतक के पिता की तहरीर पर हमलावरों के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज कर दो आरोपितों को गिरफ्तार किया है। श्यामनगर स्थित एक गेस्ट हाउस में दोस्त रीतेश की बरात में शामिल होने लोकमन मोहाल निवासी गौरव गुप्ता (26) आया था। वह किसी कुरियर कंपनी में डिलीवरी ब्वॉय था। देर रात एक बजे करीब गौरव व उसके दोस्तों ने डीजे संचालक कर्मचारी नगर निवासी अवनीश यरफ नाटी से गाना बजाने को कहा। समय सीमा खत्म होने की बात कहते हुए उसने गाना बजाने से इंकार कर दिया। इसपर गौरव व उसके साथियों ने अवनीश का लैपटॉप उठाकर फेंक दिया। इससे उनके बीच विवाद शुरू हो गया और अवनीश ने भगवंत टटिया निवासी साथी सोनू शर्मा, रवि यादव, निहाल आदि को बुला लिया। इसके बाद दोनों पक्षों में जमकर मारपीट हुई। लोगों ने दोनों पक्षों को अलग किया और गौरव को गंभीर हालत में ... Read More »

कानपुर-झांसी रेल रूट के उरई जीआरपी थाने के बैरक में हुई घटना, एसपी ने घायल दारोगा के बयान दर्ज किये

कानपुर-झांसी रेल रूट के राजकीय रेलवे पुलिस (जीआरपी) के उरई थाने में तैनात सबइंस्पेक्टर सोमवार आधी रात के बाद संदिग्ध हालात में खुद की सर्विस रिवाल्वर से चली गोली से गंभीर रूप से जख्मी हो गए। नाजुक हालत में उन्हें जिला अस्पताल ले जाया गया, जहां से प्राथमिक उपचार के बाद कानपुर अस्पताल रेफर किया गया है। रेलवे एसपी ने जिला अस्पताल पहुंचकर दारोगा का बयान दर्ज किया। आशंका है कि पारिवारिक कलह में दारोगा ने खुद को गोली मारकर जान देने का प्रयास किया है।  कानपुर-झांसी रेल खंड के जीआरपी उरई थाने में तैनात औरैया निवासी उपनिरीक्षक मोहित दुबे (28) बैरक में रहते हैं। सोमवार देर रात लगभग पौने एक बजे बैरक के अंदर अचानक सर्विस रिवाल्वर से चली गोली से मोहित जख्मी हो गए। इधर रात में पुष्पक एक्सप्रेस के कालपी पहुंचने पर चेकिंग के लिए जीआरपी थानाध्यक्ष बृजमोहन सैनी निकले और मोहित को भी बुलवाने को कहा। इसपर सिपाही पवन शिवहरेजैसे ही बैरक में पहुंचा तो मोहित को खून से लथपथ पड़ा देखकर वह सन्न रह गया। जानकारी होते ही थानाध्यक्ष तत्काल मोहित को जिला अस्पताल ले ... Read More »

विभाग के औचक निरीक्षण में लघु उद्योग मंत्री सत्यदेव पचौरी ने 80 फीसद स्टाफ गैरहाजिर होने पर की कार्रवाई

 सरकार की लाख कोशिश के बाद भी सरकारी कार्यालयों का क्या हाल है, इसकी भद्दी तस्वीर सोमवार को सामने आ गई। उप्र लघु उद्योग निगम में अराजकता के माहौल की कलई खुल गई। लघु उद्योग मंत्री सत्यदेव पचौरी निरीक्षण को पहुंचे तो 80 फीसद स्टाफ गैर हाजिर मिला। दस बजे के बाद कार्यालय पहुंचे कर्मचारियों ने नारेबाजी करते हुए मुख्य द्वार पर बाहर से ताला लगाकर मंत्री को कार्यालय के अंदर बंद कर दिया।  बंद थी कार्यालयों की लाइट, अवकाश जैसा मिला माहौललघु उद्योग मंत्री सत्यदेव पचौरी सुबह 9.45 बजे फजलगंज स्थित उप्र लघु उद्योग निगम कार्यालय पहुंचे। नजारा ऐसा मिला, जैसे अवकाश हो। कार्यालयों की बत्ती भी बंद थी। प्रबंध निदेशक केदारनाथ सिंह का दफ्तर भी बंद था। मंत्री को देखकर चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों ने जेनरेटर चालू करके कार्यालयों में लाइट जलाई। मंत्री ने स्टाफ से पूछा तो प्रथम तल पर चार-पांच चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारी ही उपस्थित मिले। किसी अधिकारी को न देखकर मंत्री ने प्रमुख सचिव भुवनेश्वर कुमार को फोन कर स्थिति से अवगत कराया। इसपर प्रमुख सचिव ने बताया कि प्रबंध निदेशक चुनावी ड्यूटी में मध्य प्रदेश ... Read More »

बिल्हौर के सैबसू गावं में घटना हुई है। अंगौछे से युवक के हाथ बंधे थे, सिर व गर्दन पर थे धारदार हथियार के निशान

 जुआ खेलने के दौरान काफी रकम जीतने के बाद युवक लापता हो गया था। चार दिन बाद सोमवार की सुबह उसका शव झाडिय़ों में पाया गया तो क्षेत्र में सनसनी फैल गई। युवक के हाथ अंगौछे से बंधे थे और सिर व गर्दन पर धारदार हथियार के निशान थे। परिजनों ने युवक की हत्या कर शव फेंके जाने की बात कही है। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर छानबीन शुरू की है। बिल्हौर कोतवाली क्षेत्र के सैबसू गांव निवासी दुर्गेश मिश्रा (42) अविवाहित था। गांव में वह तीन अन्य भाइयों से अलग रहता था। परिजनों ने बताया कि शुक्रवार को दुर्गेश गांव में मंदिर के पास मेला देखने गया था और फिर घर नहीं लौटा। ग्रामीणों ने बताया कि मेले में जुआ जीतने के दौरान दुर्गेश का कुछ युवकों से विवाद हुआ था। बाद में आपस में सुलह हो जाने पर शाम को दुर्गेश के साथ युवकों ने गांव के बाहर शराब पी थी। इसके बाद दुर्गेश लापता हो गया था। रविवार को परिजनों को खोजबीन के दौरान गांव से आधा किलोमीटर दूर झाडिय़ों में खून व घड़ी पड़ी मिली ... Read More »

कानपुर जा रही मालगाड़ी पटरी से उतरी, 500 मीटर तक उखड़ा रेलवे ट्रैक

उत्तर प्रदेश के फर्रुखाबाद जिले में शनिवार को एक मालगाड़ी के दो डिब्बे पटरी से उतर गए. रेलवे के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी. यह घटना कमलगंज स्टेशन से करीब एक किलोमीटर दूर राजेपुर गांव के पास शनिवार सुबह लगभग 6.15 बजे हुई. इस वजह से फरुखाबाद-कानपुर मार्ग पर रेल यातायात बाधित हो गया. अधिकारी के मुताबिक, रेल का गार्ड गंभीर रूप से घायल हो गया, जिसे इलाज के लिए पास के अस्पताल ले जाया गया है. हादसे के कारण 500 मीटर से अधिक रेलवे ट्रैक उखड़ गया है, जिसके चलते इस रूट पर सभी यात्री ट्रेनों को रोक दिया गया है. सूचना मिलते ही रेलवे के आला अधिकारी घटनास्थल पर पहुंच गए हैं. एक अधिकारी ने कहा कि रेल की पटरी उतरने के कारणों की जांच की जा रही है और शनिवार दोपहर तक ट्रैक की मरम्मत होने की संभावना है. डिब्बों में भरा है नमकमीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मालगाड़ी के डिब्बों में नमक भरा हुआ है. हादसे में पीछे के दो डिब्बे पटरी से उतर गए हैं जबकि आगे के डिब्बे सही-सलामत हैं. मालगाड़ी के डिब्बों में ... Read More »

15 साल पुराने हो चुके वाहनों का जल्द करा लें रजिस्ट्रेशन नवीनीकरण

शहर में अवैध ई-रिक्शों की तरह बड़ी संख्या में अन्य अवैध वाहन भी फर्राटा भर रहे हैं। ये ऐसे वाहन हैं, जिनके पंजीकरण की आयु 15 साल से अधिक हो गई है लेकिन उनका रिन्यूवल नहीं कराया गया,अब उन पर कार्रवाई की तैयारी शुरू हो गई है। वाहन मालिकों को नोटिस भेजकर पुन: पंजीकरण कराने के लिए कहा गया है। वाहन स्वामियों को रजिस्ट्रेशन फीस के साथ ही विलंब के लिए प्रत्येक माह के हिसाब से जुर्माना देना होगा। आरटीओ प्रशासन संजय सिंह ने बताया कि रजिस्ट्रेशन की 15 साल के अधिक आयु सीमा पार कर चुके वाहनों को नोटिस भेजी जा रही है। अगर उन्होंने ध्यान नहीं दिया तो उनका रजिस्ट्रेशन कैंसिल कर दिया जाएगा। उनकी रिपोर्ट शासन को भी भेजी जाएगी। वहां से कार्रवाई का फैसला होगा।  वाहनों की सूची तैयार शहर में 1.79 लाख दोपहिया और चार पहिया वाहन हैं, जिनके रजिस्ट्रेशन की समय सीमा 15 साल से अधिक की हो गई है। संभागीय परिवहन कार्यालय (आरटीओ) ने उनकी सूची भी बना ली है।  200 वाहन स्वामियों को भेजा नोटिस परिवहन विभाग शनिवार को 200 वाहन स्वामियों को नोटिस ... Read More »

Study Mass Comm